lepard

    पुणे : पुणे जिले (Pune District) के आंबेगांव तालुका (Ambegaon Taluka) की लांडेवाड़ी में तेंदुए (Leopard) द्वारा नागरिकों पर हमला करने की घटना अभी ताज़ा ही है कि अब शिंगवे (तालुका आंबेगांव) की गाढ़वे बस्ती से दो वर्ष का लड़का अचानक से लापता (Missing) हो गया है। यह घटना सोमवार को सामने आई है। स्थानीय लोगों को संदेह है कि बच्चे को तेंदुआ उठा कर ले गया है। बच्चे का नाम कृष्णा विलास गाढ़वे है।

    प्राप्त जानकारी के अनुसार, शिंगवे गांव के गाढ़वे बस्ती में सोमवार को कृष्णा विलास गाढ़वे अपने घर के पास खेल रहा था। सुबह साढ़े 9 बजे वह अचानक से लापता हो गया। घर वालों ने उसकी तलाश शुरू की, लेकिन वह कही नहीं मिला। इसके बाद स्थानीय लोगों ने घर के आसपास भी ढूंढा, लेकिन कृष्णा का कोई पता नहीं चल पाया। इसके बाद कृष्णा को तेंदुए के ले जाने का संदेह जताया गया।  यहां पर तेंदुए की चहलकदमी पिछले कई दिनों से देखी जा रही है। 

    किसानों को दिखाई दिए थे तेंदुए

    इस क्षेत्र में गन्ना की खेती अधिक मात्रा में होती है।  किसानों को कई बार एक दिन में दो-तीन तेंदुए दिखे है। स्थानीय लोगों को संदेह है कि बच्चे को तेंदुए उठा कर ले गया होगा। पुलिस पाटिल गणेश पंडित, नितिन वाव्हल, प्रकाश गाढ़वे ने वन विभाग व मंचर पुलिस स्टेशन में घटना की जानकारी दी है। वनपाल विजय वेलकर, एन एम आरुडे, वनरक्षक पूजा पवार, डी एस शिवशरण, संपत भोर, शरद जाधव ने गन्ने के खेत का निरीक्षण किया है। हालांकि लापता कृष्णा का कोई अतापता नहीं लग पाया है।