लोगों की समस्याओं को जानने के लिए मॉर्निंग वॉक विथ पुलिस उपक्रम

    पिंपरी. सुरक्षा और कानून व्यवस्था संबंधित लोगों की समस्याओं को जानने के लिए पिंपरी-चिंचवड़ पुलिस (Pimpri-Chinchwad Police) द्वारा मॉर्निंग वॉक विथ पुलिस (Morning Walk with Police) नामक उपक्रम शुरू किया गया है। वाकड विभाग के सहायक पुलिस आयुक्त (एसीपी) श्रीकांत दिसले ने वाकड पुलिस थाने (Wakad Police Station) की सीमा में सोसायटियों के रहवासियों से संवाद साधा। उन्होंने कहा कि सशक्त मन, सशक्त शरीर और नागरिकों की सुरक्षा के लिहाज से ‘मॉर्निंग वॉक विथ पुलिस’ उपक्रम शुरू किया गया है। इस उपक्रम के तहत सहायक पुलिस आयुक्त दिसले ने लोगों से संवाद साधा। सुरक्षा और कानून व्यवस्था के अलावा लोगों ने उनसे फिटनेस की टिप्स भी ली। 

    पिंपरी-चिंचवड हाउसिंग सोसायटी फेडरेशन और पिंपरी-चिंचवड़ पुलिस द्वारा शुरू किए गए इस उपक्रम में वाकड थाने के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक डॉ। विवेक मुगलीकर, फेडरेशन की अध्यक्षा तेजस्विनी धोमसे सवाई, पुलिस अधिकारी, कर्मचारी और नागरिक उपस्थित थे। सहायक पुलिस आयुक्त ने कहा कि पिछले कुछ दिनों में चेन स्नैचिंग और मोबाइल स्नेचिंग जैसे अपराध हो चुके हैं। इसका तकनीकी विश्लेषण करने पर पता चला कि वहां विजिबल पुलिसिंग की जरूरत महसूस हुई। इस मॉर्निंगवॉक में न केवल लोगों के साथ चलना है, बल्कि उनसे संवाद साधना भी शामिल है। नागरिक अपनी समस्या पुलिस को बता सकते हैं। इससे अधिकांश नागरिकों की समस्याओं का थाने गए बिना समाधान होने में मदद मिलेगी। 

    …तो ऐसी घटनाएं नहीं होगी

    तेजस्विनी धोमसे सवाई ने कहा कि कोरोना के संक्रमण ने सबको घर में कैद रहने पर विवश कर दिया। हालांकि अब कोरोना का प्रकोप कम हो रहा है। इसलिए नागरिक अब सभी नियमों का पालन करें और घर से बाहर निकलें।  महिलाओं के साथ छेड़खानी, मस्ती के लिए महिलाओं को टक्कर मारने, मोबाइल फोन छीनने, जेवर छीनने जैसे कई मामले सामने आ रहे हैं। नागरिकों को इन घटनाओं को पुलिस के संज्ञान में लाना चाहिए। अगर उन जगहों पर नागरिकों की पुलिस की मौजूदगी बढ़ जाती है तो ऐसी घटनाएं नहीं होगी। लोगों को सिर्फ अपराध से जुड़ी समस्याएं ही परेशान नहीं करती है। मनमानी पार्किंग और अन्य समस्याएं भी हैं। इसके लिए यातायात पुलिस और मनपा के अधिकारियों को भी इस वॉक में भाग लेना चाहिए। पिंपरी-चिंचवड़ को-ऑपरेटिव हाउसिंग सोसाइटी फेडरेशन के माध्यम से मनपा कमिश्नर और पुलिस कमिश्नर से अनुरोध किया जा रहा है। एक वॉक से ज्यादातर समस्याओं को हल करने में मदद मिल सकेगी, यह उम्मीद उन्होंने जताई है।