Over 5 lakh people traveled in 1 day Rajendra Jagtap

  • पीएमपी यात्री सेवा को खासा प्रतिसाद
  • अध्यक्ष और राजेंद्र जगताप की जानकारी

पुणे. पीएमपी (PMP) की बसें ( Buses) और सेवा को दिन-ब-दिन प्रतिसाद बढ़ता हुआ दिख रहा है. पीएमपी की दैनिक आय (Income) और यात्री (Passenger) संख्या भी बढ़ रही है। सप्ताह के पहले दिन सोमवार (28 दिसंबर) को यात्रियों की संख्या 5 लाख को पार कर गई। ऐसी जानकारी पीएमपी के सीएमडी और अध्यक्ष राजेंद्र जगताप (Rajendra Jagtap) ने दी। 

 ज्ञात हो कि पीएमपी का यात्री सेवा धीरे-धीरे पटरी पर  आ रहा रहा है। दैनिक आय के साथ यात्रियों की संख्या भी लाखों का आंकड़ा पार कर रही है।  

1314 बसें सड़कों पर दौड़ रही

यही नहीं प्रतिदिन 1314 बसों को सड़कों पर दौड़ाया जा रहा है. धीरे-धीरे बसों की संख्या भी बढ़ी है. जगताप ने कहा कि सोमवार को पीएमपी को लगभग 75 लाख 30 हजार 151 रुपए की आय हुई। इसमें से 71 लाख 49 हजार 039 रुपए टिकट के जरिए और 3 लाख 81 हजार 112 रुपए पास के जरिए कमाए गए। जगताप  ने कहा कि पहली बार पीएमपी ने 75 लाख रुपए का आंकड़ा पार किया है। 

ब्रेकडाउन में भी कमी

जगताप के अनुसार, पीएमपी बस और ब्रेकडाउन आम बात बन गई थी। हर दिन 100 से अधिक बसें सड़क पर ब्रेक हो रही थीं। हालांकि, अब बस के ब्रेकडाउन की संख्या बहुत कम है। सोमवार को 11 बस ब्रेकडाउन थे।  जगताप  ने कहा कि बुनियादी जरूरतों के रूप में ब्रेकडाउन की संख्या में कमी आई है। संबंधित विभागों को काम को बढ़ावा दिया जा रहा है। इससे नागरिकों का प्रतिसाद बढ़ता हुआ दिख रहा है। 

पीएमपी का यात्री सेवा धीरे-धीरे पटरी पर आ रहा रहा है। दैनिक आय के साथ यात्रियों की संख्या भी लाखों का आंकड़ा पार कर रही है। यही नहीं प्रतिदिन 1314 बसों को सड़कों पर दौड़ाया जा रहा है। 28 दिसंबर को यात्रियों की संख्या 5 लाख को पार कर गई। सोमवार को पीएमपी को लगभग 75 लाख 30 हजार 151 रुपए की आय हुई।

- डॉ राजेंद्र जगताप, अध्यक्ष और सीएमडी, पीएमपीएमएल