mara mari

    पुणे: अवैध रूप से रेत (Sand) को ढोने वाले दो ट्रक को जब्त कर उसे खडकमाल में ले जाने के दौरान 8 से 10 लोगों की भीड़ ने एक्सीडेंट का नाटक कर पटवारी (Patwari) को डंडे से पीटा। वहीं तहसीलदार (Tehsildar) तृप्ती कोलते पाटिल के कार चालक के साथ गाली-गलौज कर जब्त ट्रक को ले कर भाग गया। यह घटना पुणे-सोलापुर रोड (Pune-Solapur Road) पर स्थित शेवालवाडी के रुकारी पेट्रोल पंप (Rukari Petrol Pump) के सामने हुई।

    पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार, इस मामले में पटवारी राजेश ज्ञानदेव दिवटे (30) ने हडपसर पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई है। तहसीलदार तृप्ती कोलते और राजेश दिवटे ने अवैध रेत ढुलाई के दो ट्रक पर कार्रवाई की। उसके बाद इस ट्रक को खडकमाल आली के हवेली तहसील कार्यालय में ले जाने के दौरान 8 से 10 लोगों की गैंग ने एक ट्रक को रोका। तुम्हारी वजह से हमारी गाड़ी का एक्सीडेंट हो गया, ऐसा नाटक कर पटवारी दिवटे से विवाद किया और उन्हें डंडे से पीटा।

    ट्रक को रेत सहित चुरा लिया

    इसके साथ ही तहसीलदार तृप्ती कोलते पाटिल की गाड़ी के चालक के साथ गाली गलौज और धक्कामुक्की कर सरकारी काम में रुकावट डालने का काम किया। इसमें से एक ट्रक को रेत सहित चुरा लिया। दूसरे ट्रक का ड्राइवर ट्रक छोड़कर भाग गया। हडपसर पुलिस ने 8 से 10 लोगों पर सरकारी काम में रुकावट डालने का मामला दर्ज किया। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है। बहरहाल अवैध रेत उत्खनन और ढुलाई में लिप्त माफियाओं की बढ़ती हिम्मत से सरकारी महकमे में चिंता का माहौल व्याप्त हो गया है। ऐसी घटनाओं की रोकथाम के लिए सरकार को ठोस कदम उठाने की जरूरत बताई जा रही है।