Vikas Shelke, MD, Pune

Loading

पुणे. पिंपरी-चिंचवड़ पुलिस (Pimpri-Chinchwad Police) के एंटी-नारकोटिक्स स्क्वाड ने निगडी पुलिस स्टेशन (Nigadi Police Station) के पुलिस अधिकारी विकास शेलके (Vikas Shelke) को शनिवार (2 मार्च) को गिरफ्तार कर लिया। साथ ही उनके पास से 45 करोड़ रुपये मूल्य का 44.50 किलोग्राम मेफेड्रोन (एमडी) भी जब्त किया गया है।

पुलिस ने यह कार्रवाई एक दिन पहले पिंपले निलाख में ड्रग पेडलर नमामि शंकर झा (32) को गिरफ्तार करने के बाद की है। सांगवी पुलिस ने उसके पास से 2 करोड़ रुपये से अधिक मूल्य की 2.38 किलोग्राम एमडी जब्त की है। झा ने पुलिस को बताया कि वह कथित तौर पर शेलके के निर्देशों के तहत एमडी बेचने की कोशिश कर रहा था।

पुलिस उपायुक्त (डीसीपी) शिवाजी पवार ने कहा, “झा की गिरफ्तारी तब हुई जब सांगवी पुलिस स्टेशन के ऑन-ड्यूटी सहायक पुलिस निरीक्षक नारायण पाटिल ने स्थानीय क्षेत्र में रात की गश्त के दौरान एक सफेद कैरी बैग के साथ उसकी संदिग्ध गतिविधि देखी।”

झा के खिलाफ सांगवी पुलिस स्टेशन में एनडीपीएस अधिनियम की धारा 8 (क), 21 (क), और 22 (क) के तहत मामला दर्ज किया गया है। वहीं, शुक्रवार को उसे जिला मजिस्ट्रेट अदालत में पेश किया गया, जहां अदालत ने उसे सात दिनों की पुलिस हिरासत में भेज दिया।

पुलिस जांच में पता चला कि झा बिहार का रहने वाला है और पिंपरी चिंचवड़ में एक स्थानीय होटल में काम करता था। पुलिस के अनुसार आगे की जांच के लिए शेलके की हिरासत की मांग की जाएगी।