Pimpri-Chinchwad Municipal Corporation Commissioner Rajesh Patil

    पिंपरी : कोरोना वायरस (Corona Virus) के मामलों (Cases) में कमी आने से जनजीवन सामान्य (General) हो रहा है। स्कूल-कॉलेज (School-College) भी शुरू हो गए हैं। हालांकि खिलाड़ियों (Players) को प्रैक्टिस की अनुमति देने के महानगरपालिका कमिश्नर (Municipal Commissioner) के आदेश के बावजूद खेल विभाग 18 साल से कम उम्र के खिलाड़ियों को भोसरी के संत ज्ञानेश्वर महाराज स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स में प्रैक्टिस करने से मना कर रहा है। दो महीने पहले स्वीमिंग पूल शुरू करने के आदेश के बावजूद स्विमिंग पूल अभी भी बंद हैं।

    कोरोना महामारी के दौरान प्रकोप तेज होता दिख रहा है। पिंपरी चिंचवड़ में प्रतिदिन 50 से कम मरीज हैं। कोरोना का प्रसार कम होने के कारण सभी सुविधाएं खोली जा रही हैं। महानगरपालिका कमिश्नर राजेश पाटिल ने 3 जुलाई 21 को एक आदेश जारी कर कहा कि शहर में 18 साल से कम उम्र के खिलाड़ियों के लिए उचित सावधानी बरतते हुए अभ्यास जारी रखा जा सकता है। इसके बाद महानगरपालिका परिसर में सभी मैदानों पर मैदानी खेल अभ्यास शुरू करने की भी अनुमति दी।

    महानगरपालिका के मैदान में अभ्यास करने की अनुमति नहीं

    इसके बाद भी खेल विभाग 18 से कम आयु के खिलाड़ियों को अभ्यास के लिए मैदान उपलब्ध कराने से मना कर रहा है, इससे खिलाड़ी और उनके अभिभावकों में नाराजगी व्याप्त है। महानगरपालिका क्षेत्र के स्विमिंग पूल 21 सितंबर से शुरू करने का फैसला कमिश्नर ने किया। इसके दो माह बाद भी देखभाल दुरुस्ती का कारण बताकर स्विमिंग पूल बंद रखे जा रहे हैं। एक तरफ राज्य सरकार की ओर से स्कूलों को नए सिरे से शुरू करने के प्रयास किए जा रहे हैं। वहीं, दूसरी तरफ 18 साल से कम उम्र के खिलाड़ियों को खेल अभ्यास से रोका जा रहा है। उन्हें महानगरपालिका के मैदान में अभ्यास करने की अनुमति नहीं मिल रही है।

    दो दिनों में तैराकी फिर से शुरू

    खिलाड़ी वर्षों से फील्ड प्रतियोगिताओं के लिए प्रशिक्षण ले रहे हैं। टूर्नामेंट की तैयारी के दौरान महानगरपालिका के इस सख्त रुख से खिलाड़ियों को भारी नुकसान होगा। इसे ध्यान में रखते हुए अभिभावक मांग कर रहे हैं कि प्रशासन 18 साल से कम उम्र के खिलाड़ियों को प्रैक्टिस की इजाजत दे। खेल विभाग की सहायक आयुक्त सुषमा शिंदे ने कहा कि जिन लोगों को कोरोना का टीका लगाया गया है, उन्हें ही मैदान पर अभ्यास करने की अनुमति है। 18 वर्ष से कम उम्र के लोगों को टीका नहीं लगाया गया है। इसलिए उन्हें अनुमति नहीं है। इस संबंध में अलग से कोई आदेश जारी नहीं किया गया है। पर्यवेक्षकों को निर्देश दिया गया है। 18 साल से कम उम्र के बच्चों ने टीकों की कमी के बारे में पूछे जाने पर कोई जवाब नहीं दिया।  इसलिए स्वीमिंग पूल के रखरखाव और मरम्मत का काम चल रहा है। पिंपले गुरव व भोसरी में स्विमिंग पूल शुरू करने का कार्य आदेश दे दिया गया है। पानी भरने में समय लगता है। उन्होंने कहा कि अगले दो दिनों में तैराकी फिर से शुरू हो जाएगी।