नए मतदाता पंजीयन के लिए सियासी दलों की दौड़धूप शुरू

    पिंपरी: राज्य चुनाव आयोग ने मतदाता (Voter) समीक्षा कार्यक्रम की घोषणा कर दी है और अंतिम मतदाता सूची (Final Voter List) की घोषणा 5 जनवरी तक की जाएगी।  इसलिए आगामी महानगरपालिका चुनावों (Municipal Elections) की पृष्ठभूमि में पिंपरी-चिंचवड़ (Pimpri-Chinchwad) में राजनीतिक दलों (Political Parties) ने नए मतदाताओं के पंजीकरण (Registration) को लेकर दौड़धूप शुरू कर दी है। पार्टी नेतृत्व ने स्थानीय पदाधिकारियों को नए मतदाताओं के पंजीकरण का आदेश दिया है। नए से पंजीकृत होनेवाले मतदाता अपने हक के मतदाता साबित होते हैं, इस दौड़धूप के पीछे यह धारणा जिम्मेदार बताई जा रही है।

    पिंपरी-चिंचवड़ महानगरपालिका का आम चुनाव फरवरी 2022 में होगा। इसके लिए राजनीतिक दलों ने मोर्चा बनाकर वोट जुटाने की कोशिश शुरू कर दी है। कोरोना की स्थिति नियंत्रण में होने से कयास लगाए जा रहे हैं कि चुनाव समय पर होंगे। इस संबंध में राज्य चुनाव आयोग ने भी तैयारी शुरू कर दी है। नए मतदाताओं के पंजीकरण के लिए एक मतदाता समीक्षा कार्यक्रम की घोषणा की गई है और अंतिम मतदाता सूची की घोषणा 5 जनवरी तक की जाएगी। इसे ध्यान में लेकर राजनीतिक दलों ने मतदाता पंजीयन को लेकर पहल की है।

    बिना फोटो वाले मतदाताओं की तलाश शुरू 

    राजनीतिक दल अपने निर्वाचन क्षेत्र के साथ-साथ स्थानीय नगरसेवक वार्डों में नए मतदाताओं को पंजीकृत करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।  इसलिए चुनाव आयोग पदाधिकारियों को मतदाता सूची भी भेजेगा। इसी के तहत पदाधिकारियों ने अपने वार्ड में नए मतदाताओं के साथ ही बिना फोटो वाले मतदाताओं की तलाश शुरू कर दी है। छूटे हुए नामों को भी बहाल करने का प्रयास किया जा रहा है। पिंपरी-चिंचवड़ महानगरपालिका की सीमा में पिंपरी, चिंचवड़ और भोसरी विधानसभा क्षेत्रों के साथ-साथ भोर (ताथवड़े) निर्वाचन क्षेत्र शामिल हैं।

    शिवसेना का शिव मतदाता पंजीकरण अभियान शुरू

    पिंपरी विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र में 12 हजार 500, चिंचवड़ निर्वाचन क्षेत्र में 7696, भोसरी विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र में 3168 मतदाताओं के नाम हटा दिए गए हैं क्योंकि मतदाता सूची में उनकी कोई फोटो नहीं है। इसलिए ऐसे मतदाताओं को ढूंढकर उनके फोटो के साथ रजिस्ट्रेशन कराना होगा। मतदाताओं के लिए चुनाव से पहले अपना नाम दर्ज कराने का यह आखिरी मौका है। इसलिए राजनीतिक दलों ने नए मतदाताओं के नाम दर्ज करने और बिना फोटोवालों के नाम दर्ज करने का आदेश दिया है। इस कड़ी में शिवसेना की ओर से शिव मतदाता पंजीकरण अभियान की शुरुआत थेरगांव के गणेशनगर में सांसद श्रीरंग बारणे के हाथों की गई। इसके तहत घर घर जाकर पांच हजार नए मतदाताओं के ऑनलाइन पंजीकरण का लक्ष्य तय किया गया है। शिवसेना के शहरप्रमुख एड सचिन भोंसले की संकल्पना से यह अभियान चलाया जा रहा है। इस मौके पर युवा सेना के पंकज दीक्षित, समीर पवार, अमित उबाले, विठ्ठल कांबले, विलास जगदाले, बालू पाटील, राहुल शर्मा, गणेश शितोले, श्रीनिवास आदमाने, आशिष गलाजी, सचिन झरेकर, दीपक बरकडे, हनिफ शेख, शशांक राणे, नितीन गायकवाड, पप्पू गायकवाड, ओंकार लाड, भूषण गवली आदि उपस्थित थे।