Kondhwa Police Station, PUNE

  • 15 लाख रुपए की मांगी फिरौती
  • गाड़ी से कुचलकर मारने की दी धमकी

पुणे:  नामी बि‍ल्‍डर (Builder) युवराज ढमाले (Yuvraj Dhamale) को गाड़ी से कुचलकर मार डालने की धमकी (Threatened) देकर 15 लाख रुपए की फिरौती (Ransom) मांगने का मामला सामने आया है। एक बड़े कारोबारी को फिरौती के लिए जान से मारने की धमकी मिलने से पुणे (Pune) में खलबली मच गई है। इस बारे में कोंढवा पुलिस स्‍टेशन (Kondhwa Police Station) में मामला दर्ज (Case Registered) किया गया है। 

इस मामले में रविलाल देवजीलाल प्रजापति (40), जीतू प्रजापति (निवासी कोंढवा, पुणे) और एक अन्‍य व्‍यक्ति के खिलाफ फिरौती, जान से मारने की धमकी देने को लेकर भारतीय दंड संहिता की धारा 384, 386, 387 और 34 के तहत मामला दर्ज किया गया है। उनके खिलाफ बिल्डर और कारोबारी युवराज ढमाले (निवासी धनकवड़ी, पुणे) ने शिकायत दर्ज कराई है।

बिल्‍डर को बदनाम करने की धमकी दी गई

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार, युवराज ढमाले शहर के नामी कारोबारी औऱ बिल्‍डर हैं। उनका कोंढवा के गोकुल होटल के पास कंस्‍ट्रक्‍शन चल रहा है। यहां का काम पूरा होने के बाद कुछ लोगों को छोड़ यहां के अधिकतर फ्लैट का कब्जा अन्‍य सभी को दे दिया गया है। यहां के फ्लैटधारकों ने सहकारी गृहनिर्माण संस्‍था के तहत सोसायटी की स्‍थापना भी की है। आरोपी देवजीभाई प्रजापति को भी उसके फ्लैट पर कब्‍जा दिया गया है। इसके बावजूद प्रजापति जीतू प्रजापति और अन्‍य आरोपियों की मदद से सदस्‍यों की मीटिंग बुलाकर कॉमन ऍमिनिटीज पर अब तक कब्‍जा नहीं देने को लेकर विवाद पैदा किया। सोसायटी के सदस्‍यों को भड़काकर बिल्‍डर के खिलाफ शिकायत दर्ज कराने और बिल्‍डर को बदनाम करने की धमकी दी गई। 

पुलिस ने शुरु की जांच

इसके साथ ही 15 लाख रुपए की फिरौती मांग कर रुपए नहीं देने पर गाड़ी से कुचल देने की धमकी दी। इस मामले में युवराज ढमाले ने पुलिस में शिकायत की। उनकी शिकायत और आवश्‍यक सबूत दिए जाने के बाद पुलिस ने उपरोक्त आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरु कर दी है। इस मामले में अभी तक कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है। कोंढ़वा पुलिस मामले की छानबीन में जुटी हुई है।