File Photo
File Photo

    -शैलेंद्र सिंह

    पुणे:  पुणेकरों (Punekars) के लिए राहत भरी खबर है क्योंकि फ़िनलैंड (Finland) से आए 47 वर्षीय सॉफ्टवेयर इंजीनियर जिसमें कोविड-19 का ओमीक्रोन वेरिएंट (Omicron Variants) पाया गया था। अब पूरी तरह से स्वस्थ (Healthy) है। उसे हॉस्पिलाइज भी नहीं किया गया है, बल्कि होटल में ही इंस्टीट्यूशनल क्वारंटाइन किया गया है। वह वहीं से अपने रोजमर्रा के काम कर रहा है।उसे किसी भी तरह की कोई तकलीफ नहीं है।  

    पुणे महानगरपालिका के स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. संजीव वरवे ने बताया कि वह इस समय पूरी तरह से स्वस्थ है। पहले दिन उसे हल्का बुखार था पर अब वह असिम्प्टोमैटिक है और वह रोजमर्रा की इक्सरसाइज के साथ-साथ अपना काम बखूबी कर रहा है। 

    कर रहा ऑनलाइन अपना काम

    उन्होंने बताया कि वह होटल में रहकर ऑनलाइन दफ्तर का काम कर रहा है। वरवे ने पुणेकरों से अपील किया है कि उन्हें डरने की आवश्यकता नहीं है, वे बस कोरोना गाइडलाइन्स का पालन करते रहें। मिली जानकारी के मुताबिक सॉफ्टवेयर इंजीनियर 23 नवंबर को फिनलैंड छोड़ने से पहले उन्होंने कोविड -19 परीक्षण करवाया था और रिपोर्ट निगेटिव थी। 25 नवंबर को वह मुंबई पहुंचा और उसी दिन मुंबई से पुणे आया। 26 नवंबर को वह ऑफिस भी गया था। 

    फ़िनलैंड से आया था

    पीएमसी से मिली जानकारी के मुताबिक, उसे 28 नवंबर को बुखार आया। जिसके बाद उसने खुद को अपने कमरे में अलग कर लिया और 29 नवंबर एक बार फिर कोविड-19 परीक्षण करवाने पर उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई। चूंकि वह फ़िनलैंड से आया था, इसलिए उसके सैंपल को जिनोम सिक्वेंसिंग के लिए भेजा गया। जिसकी रिपोर्ट आने के बाद पाया गया कि वह ओमीक्रोन वेरिएंट से संक्रमित था।

    सोसाइटी के लोग निगेटिव

    पुणे महानगरपालिका के स्वास्थ्य अधिकारी उसके साथ दैनिक संपर्क में हैं। फ़िलहाल वह असिम्प्टोमैटिक है। उसके सहयोगियों, परिवार के सदस्यों और यहां तक कि जिस सोसाइटी में वह रहता है, वहां के रहिवासियों का भी कोविड परीक्षण किया गया है जो नेगेटिव हैं। पीएमसी स्वास्थ्य अधिकारियों के अनुसार, व्यक्ति के 42 संपर्कों का परीक्षण किया गया, जिनमें से 15 उच्च जोखिम वाली श्रेणी में थे। उनकी रिपोर्ट्स नेगेटिव आए हैं।

    ओमीक्रोन वैरिएंट से ग्रसित मरीज स्वस्थ है। उसे कोई तकलीफ नहीं है। यानी ओमीक्रोन वैरिएंट से डरने की जरूरत नहीं है। अंतरराष्ट्रीय और राष्ट्रीय विमान से पुणे आने वाले सभी यात्रियों की महानगरपालिका की ओर से आरटीपीसीआर टेस्ट किया जा रहा है। इसलिए पुणेकर अफवाहों पर भरोसा नहीं करें। चुनौती से लड़ने के लिए पुणे महानगरपालिका के सभी स्वास्थ्य यंत्रणा सतर्क और सुसज्ज हैं।

    -मुरलीधर मोहोल, महापौर, पुणे महानगरपालिका