Pimpri Chinchwad Municipal Corporation

    पिंपरी: राज्य चुनाव आयोग (State Election Commission) ने पिंपरी-चिंचवड़ महानगरपालिका (Pimpri-Chinchwad Municipal Corporation) के आगामी चुनावों (Elections) के लिए महानगरपालिका प्रशासन द्वारा तैयार किए गए वार्ड रचना के ढांचे के मसौदे में बड़े फेरबदल का सुझाव दिया है। चुनाव आयोग के सुझाव के मुताबिक, बदलाव करते महानगरपालिका के अधिकारियों की हालत पतली हो गई है, और वरिष्ठ अधिकारी मुंबई (Mumbai) में तैनात हैं। इससे महानगरपालिका प्रशासन पर लगाए जा रहे आरोप की पुष्टि होती है कि वार्ड रचना राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के पक्ष में बनाई गई है। 

    महानगरपालिका कमिश्नर द्वारा मसौदा योजना तैयार करने की घोषणा की गई समिति नाममात्र की थी। महानगरपालिका के सिर्फ चार अधिकारियों ने मिलकर वार्ड रचना का यह मसौदा तैयार किए जाने की जानकारी भी सामने आई है। 

    वार्ड ढांचे का रफ ड्राफ्ट तैयार किया 

    राज्य चुनाव आयोग द्वारा निर्धारित 30 नवंबर की समय सीमा के भीतर, महानगरपालिका प्रशासन योजना का मसौदा तैयार करने की उम्मीद थी। मगर प्रशासन ने योजना के लिए 15 दिन का और समय मांगा था। हालांकि, चुनाव आयोग ने समय सीमा को केवल छह दिनों के लिए बढ़ाकर 6 दिसंबर तक कर दिया। महानगरपालिका का 2022 का चुनाव तीन सदस्यीय वार्ड में इस तरह होगा। इसी के तहत महानगरपालिका प्रशासन ने आगामी चुनाव के लिए वार्ड ढांचे का रफ ड्राफ्ट तैयार किया है। चुनाव विभाग ने सोमवार (6 दिसंबर) को राज्य चुनाव आयोग को ड्राफ्ट सौंप दिया। शनिवार को राज्य चुनाव आयोग के सामने वार्ड रचना का प्रस्तुतिकरण पेश किया गया था। इसके लिए चुनाव विभाग के नगर आयुक्त, अतिरिक्त आयुक्त, सहायक आयुक्त मुंबई में थे। 

     कई बदलावों का सुझाव दिया 

    चुनाव आयोग ने इस मसौदे की कड़ी जांच की थी। क्या वार्ड की जनसंख्या उचित अनुपात में है? क्या प्राकृतिक प्रवाह, सड़कें, फ्लाईओवर को सीमाओं के रूप में डिजाइन किया गया है? इसकी गहनता से जांच की गई। बड़ी संख्या में त्रुटियों के कारण चुनाव आयोग ने कई बदलावों का सुझाव दिया है। ऐसे में महानगरपालिका प्रशासन की मेहनत पर पानी फिर गया है। अतिरिक्त आयुक्त और चुनाव के सहायक आयुक्त मुंबई में तैनात हैं। चुनाव आयोग द्वारा सुझाए गए परिवर्तनों को करने के लिए अधिकारी अनिच्छुक हैं। यह इस आरोप की पुष्टि करता है कि राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी ने अनुकूल वार्ड का गठन किया है। वार्ड रचना के लिए बनी 25 सदस्यीय कमेटी महज एक नाम थी। नगर निगम हलकों में इस बात की काफी चर्चा है कि रफ ड्राफ्ट चार व्यक्तियों अर्थात् आयुक्त, अतिरिक्त आयुक्त और दो सहायक आयुक्तों द्वारा तैयार की गई है।