File Photo
File Photo

    पिंपरी: राज्य सरकार ने भले ही वार्ड संरचना को रद्द कर दिया है। पर राज्य चुनाव आयोग (State Election Commission) ने स्थानीय निकायों कोई निर्देश नहीं दिया है। इसलिए तीन सदस्यीय वार्ड संरचना (Three-Member Ward Structure) के अनुसार पिंपरी-चिंचवड़ महानगरपालिका (Pimpri-Chinchwad Municipal Corporation) के चुनाव (Election ) विभाग द्वारा मतदाता सूची (Voter List) बनाने का काम शुरू कर दिया गया है। इसलिए जल्द ही वार्ड गठन को अंतिम मंजूरी मिलने और मई में चुनाव होने की संभावना जताई जा रही है।

    राज्य सरकार ने वार्डों की संख्या निर्धारित करने और चुनाव की तारीख की घोषणा करने के लिए राज्य चुनाव आयोग के अधिकार अपने हाथ में ले लिए हैं। राज्य सरकार ने अध्यादेश जारी किया है, इसलिए स्थानीय निकाय चुनाव अक्टूबर तक टाले जाने की संभावना है। वहीं राजपत्र के प्रकाशन के 13 दिन बाद भी राज्य चुनाव आयोग ने अभी तक इस संबंध में महानगरपालिका को कोई आदेश जारी नहीं किया है।

    राज्य चुनाव आयोग के आदेश का इंतजार 

    महानगरपालिका के चुनाव विभाग को राज्य चुनाव आयोग के आदेश का इंतजार है। बहरहाल महानगरपालिका ने वार्ड संरचना के प्रारूप योजनाओं पर प्राप्त सुझावों और आपत्तियों पर सुनवाई की रिपोर्ट 2 मार्च को चुनाव आयोग को सौंप दी है। चूंकि राज्य सरकार के गजट को लेकर राज्य चुनाव आयोग से कोई आदेश प्राप्त नहीं हुआ है, इसलिए तीन सदस्यीय वार्ड संरचना को अंतिम मंजूरी मिलने की संभावना है। नतीजन तीन सदस्यीय वार्ड संरचना के अनुसार वर्तमान में महानगरपालिका द्वारा मतदाता सूची बनाने का कार्य किया गया है। सूची का कार्य प्राथमिक स्तर पर पूर्ण कर लिया गया है। चुनाव अधिकारियों ने बताया कि सूची में कुछ कमियों को दूर कर अंतिम सूची तैयार की जाएगी।