शिवशाही के राज्य में एसटी कर्मियों से मुगलों जैसा बर्ताव क्यों?, आम आदमी पार्टी का राज्य सरकार से सवाल

    पिंपरी: राज्य में एसटी कर्मचारियों (ST Employees) ने वेतन वृद्धि के साथ निगम के सरकार में विलय के लिए बुलाई गई अनिश्चितकालीन हड़ताल (Strike) को आम आदमी पार्टी की पिंपरी-चिंचवड़ इकाई ने अपना समर्थन देने की घोषणा की है। पिंपरी वल्लभनगर डिपो में चल रहे आंदोलन में आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) के पदाधिकारियों ने हड़ताली कर्मचारियों को समर्थन का पत्र देकर उनके आंदोलन (Protest), का समर्थन (Support) किया है।

    एसटी कर्मचारियों की मांगें जायज और ज्वलंत हैं, उन्हें पूरा करने को लेकर राज्य सरकार द्वारा की जा रही टालमटोल और लेटलतीफी, कर्मचारियों की हड़ताल के प्रति नकारात्मक भूमिका के चलते गांव- गांव पहुंची एसटी बसों की यात्रा निजीकरण की ओर बढ़ रही है, ऐसा लग रहा है। यह देखकर आम आदमी पार्टी हड़ताली कर्मचारियों के आंदोलन का समर्थन देती है और राज्य सरकार से उनकी मांगों को पूरा करने एवं हड़ताली कर्मचारियों के खिलाफ कोई कठोर कार्रवाई न करने की मांग करती है। 

    इस मांग के साथ ही आम आदमी पार्टी ने सवाल उठाया है कि शिवशाही के राज्य में एसटी कर्मचारियों के प्रति मुगलों जैसा बर्ताव क्यों किया जा रहा है? इस मौके पर पार्टी की शहर इकाई के कार्यकारी अध्यक्ष चेतन गौतम बेंद्रे, जनसंपर्क प्रमुख वैजनाथ शिरसाट, सागर सोनावणे, स्वप्नील जेवले आदि उपस्थित थे।