Satara , Maharashtra : NCP leader Shashikant Shinde lost by one vote, supporters were furious, threw stones at the party's office in Satara

    पुणे (महाराष्ट्र): राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (Nationalist Congress Party) के विधान पार्षद शशिकांत शिंदे (Shashikant Shinde) मंगलवार को सतारा (Satara) जिला केन्द्रीय सहकारी बैंक का चुनाव (Election) एक वोट (Vote) से हार गए, जिसके बाद उनके समर्थकों ने पश्चिमी महाराष्ट्र (Maharashtra) के सतारा शहर में पार्टी कार्यालय पर कथित तौर पर पथराव किया।

    शिंदे को उनके प्रतिद्वंद्वी ज्ञानदेव रांजणे ने चुनाव में एक वोट से मात दी। चुनाव के परिणाम की घोषणा मंगलवार को ही की गई। पथराव की घटना की पुष्टि करते हुए सतारा के पुलिस अधीक्षक अजय कुमार शिंदे ने कहा कि शशिकांत शिंदे के 7-8 समर्थकों को पुलिस ने हिरासत में लिया है। वहीं, शिंदे ने एक समाचार चैनल से बात करते हुए घटना पर माफी मांगी और कहा कि वह राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) और उसके प्रमुख शरद पवार के एक वफादार कार्यकर्ता हैं।

    शिंदे ने कहा, ‘‘ मुझे चुनाव में एक वोट से हार मिली है और इसे स्वीकार किया जाना चाहिए। मेरे लिए, राकांपा, शरद पवार और अजित पवार ही सबकुछ हैं। मेरी हार के पीछे साजिश थी और आने वाले दिनों में इसका पर्दाफाश किया जाएगा। साथ ही, चुनाव के दौरान मैंने ढिलाई बरती जो मुझे महंगी पड़ी।”

    उन्होंने अपने समर्थकों से संयम बरतने की अपील भी की। शिंदे ने कहा, ‘‘ मैं, पवार साहेब, अजित पवार, जयंत पवार और सुप्रिया सुले से अपने समर्थकों की ओर से माफी मांगता हूं। वे (समर्थक) हार की वजह से भावुक हो गए थे।” यह पूछने पर कि हार के लिए कौन जिम्मेदार है, शिंदे ने कहा कि वह इस बारे में बाद में बात करेंगे। (एजेंसी)