eknath shinde

Loading

मुंबई: महाराष्ट्र (Maharashtra) के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे (CM Eknath Shinde) ने कहा है कि पिछले कुछ दिन में बेमौसम बारिश के कारण महाराष्ट्र (Maharashtra0 के कई क्षेत्रों में लगभग एक लाख हेक्टेयर भूमि में खड़ी फसलें प्रभावित हुई हैं। मुख्यमंत्री ने फसलों के नुकसान का प्रारंभिक आकलन का जिक्र करते हुए यह जानकारी दी। एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि उत्तरी महाराष्ट्र के नासिक जिले में बारिश से जुड़ी घटनाओं में दो लोगों की मौत हो गई।

मुख्यमंत्री ने कहा कि बेमौसम बारिश से जिन किसानों की फसलों को नुकसान पहुंचा हैं उन्हें मुआवजा दिया जाएगा। शिंदे ने सोमवार को ठाणे में कहा, ‘‘अधिकारियों को फसलों को हुए नुकसान का ‘पंचनामा’ (सर्वेक्षण) करने और प्रभावित किसानों को उचित मुआवजे देने का निर्देश दिया गया है।”

उन्होंने कहा कि शुरुआती आकलन में पता चला है कि पिछले कुछ दिन में बेमौसम बारिश के कारण मराठवाड़ा, विदर्भ और उत्तरी महाराष्ट्र के कई क्षेत्रों में लगभग एक लाख हेक्टेयर भूमि में फसलें प्रभावित हुई हैं। मुख्यमंत्री ने कहा,‘‘यह किसानों और मजदूरों की सरकार है। सरकार हमेशा इन लोगों के साथ है।”

प्रारंभिक आकलन रिपोर्ट के अनुसार, ‘‘99,381 हेक्टेयर कृषि भूमि में फसलें प्रभावित हुईं। इनमें कपास, प्याज और अंगूर जैसी नकदी फसलों के साथ-साथ अन्य पारंपरिक कृषि उत्पाद भी शामिल हैं।” रिपोर्ट में कहा गया है कि 16 प्रभावित जिलों में से प्याज और अंगूर की खेती के प्रमुख केंद्र नासिक में फसलों को सबसे अधिक नुकसान हुआ है।

इससे पहले केंद्रीय मंत्री कपिल पाटिल ने मंगलवार को मुख्यमंत्री से भिवंडी लोकसभा क्षेत्र में बारिश और ओलावृष्टि से फसलों को हुए नुकसान का आकलन शीघ्र कराने का आग्रह किया था। मुख्यमंत्री को लिखे एक पत्र में पाटिल ने कहा कि भिवंडी, शाहपुर, वाडा आदि क्षेत्रों में फसलों को भारी नुकसान हुआ है और धान की कटाई भी प्रभावित हुई है। उन्होंने मुख्यमंत्री से प्रभावित किसानों के लिए राहत और उचित मुआवजे का आदेश देने का भी आग्रह किया। (एजेंसी)