Representational Pic
Representational Pic

    भिवंडी : भिवंडी (Bhiwandi) में 5 दिन पूर्व जन्मी (Born) नवजात बच्ची (Newborn Baby) को मां-बाप द्वारा डेढ़ लाख रुपये में दलालों (Brokers) को बेचने का सनसनीखेज प्रकरण प्रकाश में आया है। जानकारी के उपरांत ठाणे क्राइम ब्रांच टीम नें जाल बिछाकर मां-बाप सहित 4 दलालों को रंगे हाथ गिरफ्तार किया है। उक्त घटना से इंसानियत तार-तार हुई है। मिली जानकारी के अनुसार, शांति नगर झोपड़पट्टी क्षेत्र निवासी ऑटो रिक्शा ड्राइवर वकील अंसारी के पास पहले से ही 3 बेटियां थी। 4 दिन पूर्व चौथी बेटी होने पर दम्पत्ति ने नवजात बच्ची को बेचने के लिए मुंब्रा निवासी दलालों की टोली जीनत खान, वसीम शेख, कायनात शेख और मुजम्मिल शेख से सम्पर्क कर डेढ़ लाख रुपए में सौदा किया।

    नवजात बच्ची को बेचने की बात तय होते ही ऑटोरिक्शा ड्राइवर वकील अंसारी पत्नी मुमताज पत्नी के साथ नवजात दुधमुंही बच्ची को लेकर ठाणे स्थित स्वागत होटल गया। मुखबिर से बच्ची को बेचने की सूचना मिलते ही ठाणे क्राईम ब्राच यूनिट-1 की टीम ने जाल बिछाकर बच्ची को दलालों के हाथ बेचकर डेढ़ लाख रुपए लेते हुए मां-बाप सहित 4 दलालों को रंगे हाथ गिरफ्तार किए जाने में सफलता हासिल की है। पुलिस ने नवजात बच्ची को स्वास्थ्य सुरक्षा और देखरेख के लिए डोंबिवली स्थित बाल सुधार गृह में भेज दिया है।

    पुलिस अपराधिक मामला दर्ज कर तहकीकात कर रही है। पुलिस को आशा है कि गिरफ्तार दलालों से बच्चों की बिक्री के अन्य मामलों का खुलासा हो सकता है। उक्त संदर्भ में नवजात बच्ची को डेढ़ लाख में ग्राहक को बेचते हुए गिरफ्तार पिता रिक्शा चालक वकील अंसारी ने बेहद अफसोस प्रकट करते हुए पुलिस को बताया कि पहले ही 3 लड़कियां है। इस बार पत्नी के गर्भवती होने पर बेटे की आस थी, लेकिन फिर बेटी पैदा हुई। ऑटोरिक्शा चलाकर 4 बेटियों का गुजारा और शादी करना बेहद मुश्किल होने की वजह से यह कदम उठाया है।