Bhiwandi Municipal Corporation

    भिवंडी. भिवंडी (Bhiwandi) निजामपुर शहर (Nizampur City) महानगरपालिका के आगामी (Upcoming) होने वाले महानगरपालिका चुनाव में नई वार्ड रचना संरचना से प्रत्याशियों में बेचैनी फैली है। सरकार के निर्देश पर 3 प्रत्याशियों के पैनल में होने वाले आगामी महानगरपालिका चुनाव (Upcoming) को लेकर महानगरपालिका प्रशासन स्तर पर सरगर्मियां तेज हो गई हैं। आगामी महानगरपालिका चुनाव में भिवंडी महानगरपालिक में 90 नगरसेवक से बढ़कर अब 101 नगरसेवक होने जा रहे हैं। भिवंडी महानगरपालिका अंतर्गत क्षेत्र में 11 नए नगरसेवक बनने से महानगरपालिका चुनाव लड़ने वाले नए इच्छुक प्रत्याशियों में भाग दौड़ तेज हो गई है। आगामी महानगरपालिका चुनाव के मद्देनजर तमाम जनप्रतिनिधि और राजनीतिक दल भी अपनी बिसात बिछाने में जुट गए हैं।

    गौरतलब है कि भिवंडी निजामपुर शहर महानगरपालिका का चुनाव आगामी अप्रैल माह के आखिरी सप्ताह और मई माह के प्रथम सप्ताह में होने के आसार हैं। वर्तमान महानगरपालिका कौंसिल का चुनाव अप्रैल माह के दूसरे सप्ताह में हुआ था और महानगरपालिका महापौर का चुनाव 5 जून को हुआ था। भिवंडी महानगरपालिका में कुल 90 नगरसेवक हैं जिसमें कांग्रेस के सर्वाधिक नगरसेवक हैं.आगामी मनपा चुनाव में 3 सदस्यीय पैनल की नई वार्ड संरचना होने से 11 नगरसेवक बढ़ने की प्रबल संभावना है। महानगरपालिका चुनाव में 3 सदस्यीय पैनल अर्थात एक प्रभाग में करीब 21 हजार वोटर होंगे। भिवंडी महानगरपालिका में अभी तक 90 चुने हुए नगरसेवक और 5 पार्टियों के मनोनीत नगरसेवक है। 

    7 लाख 13 हजार वोटर करेंगे 101 जनप्रतिनिधियों का चुनाव

    2011 की जनगणना के तहत करीब 7 लाख 13 हजार वोटर 101 महानगरपालिका जनप्रतिनिधियों का चुनाव करेंगे। 26 किलोमीटर चतुरसीमा की भिवंडी महापालिका में शहर के मध्य में रहिवासी इमारतें और शहर के किनारे क्षेत्रों में पावरलूम सेक्टर बसा हुआ है। महानगरपालिका क्षेत्र अंतर्गत करीब 2 दर्जन से अधिक झोपड़पट्टी बस्तियां हैं जिसमें करीब 2 लाख से ऊपर पावरलूम उद्योग से जुड़े परप्रांतीय मजदूर परिवार के साथ रहते हैं।

    मनपा चुनाव में जोर आजमाइश के लिए तैयारियां शुरू

    आगामी महानगरपालिका चुनाव के मद्देनजर राजनीतिक दलों और वर्तमान जनप्रतिनिधियों द्वारा चुनावी वैतरणी पार करने के लिए जोरदार तैयारियां कमोवेश शुरू हो गई हैं। वर्तमान जनप्रतिनिधि अपने वोटरों को लुभाने के लिए कोई भी वादा या कार्य नहीं छोड़ रहे हैं। भिवंडी महानगरपालिका में पिछले महानगरपालिका चुनाव में 4 सदस्यीय पैनल के तहत चुनाव लड़ा गया था। भिवंडी महानगरपालिका  में 4 सदस्यीय पैनल के तहत कुल 23 प्रभाग थे जिसमें 22 प्रभाग में 88 नगरसेवक और 23वें नंबर प्रभाग में केवल 2 नगरसेवक का समावेश है। आगामी महानगरपालिकिआ चुनाव में 101 नगरसेवक होने की वजह से महानगरपालिका प्रभाग की संख्या 34 हो जाएगी। 33 प्रभाग में 99 नगरसेवक और 34 वें नंबर के प्रभाग में 2 नगरसेवक का समावेश होगा। सूत्रों की माने तो नगरसेवकों की बढ़ती संख्या के आधार पर राजनीतिक दलों द्वारा मनोनीत 5 नगरसेवकों की संख्या भी बढ़कर 6 होने की संभावना है।

    11 नए नगरसेवकों पर राजनीतिक दलों की पैनी नजर

    आगामी महानगरपालिका चुनाव में भिवंडी महानगरपालिका में 11 नगरसेवकों की बढ़ती संख्या को देखते हुए तमाम राजनीतिक दलों के नेताओं ने अपने परिवार के लोगों को नगरसेवक बनाने के लिए कमोवेश जोड़-तोड़ शुरू कर दी है। सूत्रों की माने तो अंजुरफाटा से मानसरोवर क्षेत्र तक करीब 2-3 प्रभाग बढ़ने की संभावना है। उक्त क्षेत्र में बढ़ने वाले करीब 3 महानगरपालिका प्रभाग के लिए भाजपा के शीर्ष नेताओं की रस्साकशी शुरू हो गई है। विश्वस्त सूत्रों की माने तो मानसरोवर से कामतघर क्षेत्र तक किसी भी महानगरपालिका प्रभाग के पैनल में केंद्रीय पंचायतराज राज्य मंत्री कपिल पाटिल के सुपुत्र सिद्धेश पाटिल के भाजपा से नगरसेवक उम्मीदवार होने की जोरदार चर्चा हैं। इसी प्रकार भाजपा विधायक महेश चौगुले के भाई राजू चौगुले, महानगरपालिका महापौर प्रतिभा पाटिल के सुपुत्र मयूरेश पाटिल और भाजपा जिलाध्यक्ष संतोष शेट्टी के अनुज राजेश शेट्टी का नाम भी आगामी महानगरपालिका चुनाव में प्रत्याशी होने की चर्चा में शामिल है। डंके की चोट पर कहा जा सकता है कि भिवंडी महानगरपालिका चुनाव में सभी राजनीतिक दलों से जुड़े शीर्ष नेताओं के घरों के सदस्य महानगरपालिका चुनाव में ताल ठोंकने को लालायित हैं।