प्रतीकात्मक तस्वीर
प्रतीकात्मक तस्वीर

ठाणे. शौचालय जाने के बहाने खिड़की के रास्ते भागे कैदी (Prisoner) को ठाणे नगर पुलिस (Thane Nagar Police) ने 7 दिन बाद गिरफ्तार कर लिया गया. इससे पहले कैदी को मोबाइल चोरी (Mobile Theft) के मामले मे जाने पर उसे उपचार के लिए जिला अस्पताल (District Hospital) में भर्ती कराया गया था. फिलहाल उसे 14 दिन के न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है.

मिली जानकारी के अनुसार, ठाणे नगर पुलिस ने 7 दिसंबर को बबलू उर्फ पप्पू गुप्ता (25) को मोबाइल चोरी के एक मामले में गिरफ्तार किया था. गिरफ्तार के बाद उसे अलग सेल में रखा गया था. साथ ही एंटीजन टेस्ट (Antigen test) कराए जाने पर वह कोरोना संक्रमित पाया गया था. इसके बाद आरोपी को आगे के उपचार के लिए 11 दिसंबर को जिला सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया. इसी बीच 18 दिसंबर को आरोपी भोर साढ़े तीन बजे के आस-पास शौचालय जाने के बहाना किया. साथ ही शौचालय में जाकर फैन को निकालकर उसी रास्ते वह भाग खड़ा हुआ था. यह मामला सामने आने के बाद अस्पताल प्रशासन और पुलिस विभाग में तहलका मच गया था. साथ ही ठाणे नगर पुलिस मामला दर्ज कर आरोपी की तलाश शुरु कर दी थी. 

न्यायालय परिसर से गिरफ्तार किया 

इसी बीच ठाणे नगर पुलिस को गुप्त जानकारी मिली कि आरोपी बबलू गुप्ता ठाणे न्यायालय परिसर में आने वाला है. सूचना के आधार पर वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक राम सोमवंशी के मार्गदर्शन में अपराध प्रकोष्ठ टीम के पुलिस उपनिरीक्षक सचिन बाराते, पुलिस सिपाही विक्रम शिंदे, गणेश पोल, रोहन पोतदार, उमेश मुंढे और तानाजी अंबुरे की टीम ने जाल बिछाकर आरोपी बबलू गुप्ता को न्यायालय परिसर से गिरफ्तार किया गया. गिरफ्तारी के बाद उसे न्यायालय में पेश किया गया, जहां से उसे 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है.