Vaccination preparations completed at 29 centers in Thane district

ठाणे. सातवें आर्थिक जनगणना पर विशेष जोर देने का निर्देश जिलाधिकारी राजेश नार्वेकर  (Collector Rajesh Narvekar) ने संबधित विभाग के अधिकारियों को दिया है। सातवें आर्थिक जनगणना  (Economic census) के लिए जिलाधिकारी की अध्यक्षता में एक बैठक बुलाई गई थी।

इस बैठक में मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिला परिषद भाऊसाहेब डांगडे, जिला योजना अधिकारी अमोल खंदारे, जिला सांख्यिकी अधिकारी मनीषा माने के साथ ही मनपा और जिला परिषद के अधिकारी उपस्थित थे, जिसमें जनगणना को लेकर समीक्षा की गई है। इस दौरान नार्वेकर ने कहा कि 7वें आर्थिक जनगणना के लिए महाराष्ट्र जिले में प्रतिष्ठानों का सूचना संग्रह चल रहा है, इसके लिए गणनाकार नियुक्त किए गए हैं। ऐसे में इन गणनाकारों से सही जानकारी देकर सहयोग करना जरुरी है। 

बता दें कि केंद्र सरकार के निर्देशानुसार जिले में 7वीं आर्थिक जनगणना का कार्य चल रहा है। यह गणना मोबाइल ऐप के माध्यम से की जा रही है। इस उद्देश्य के लिए जिले में 3000 गणनाकार और 983 पर्यवेक्षकों की नियुक्ति की गई है। इस गणना में सभी उद्योगों, व्यवसायों और सेवाओं के द्वार पर जाकर गिनती की जाएगी। वित्तीय गणना जानकारी का उपयोग योजना बनाने के लिए किया जाता है और इसका उपयोग देश की अर्थव्यवस्था में अनेकों क्षेत्रों की भागीदारी के आंकड़े की जानकारी के उद्देश्य से सर्वेक्षण के बाद योजना के लिए भी किया जाता है। 

इसके अलावा जिलाधिकारी नार्वेकर ने संबंधित सभी एजेंसियों को यह भी निर्देश दिया कि वित्तीय गणना के काम को निर्धारित समय के भीतर पूरा करने के लिए उचित योजना बनाएं, इसके बाद जिला सांख्यिकी अधिकारी मनीषा माने ने 7वीं आर्थिक जनगणना का विवरण प्रस्तुत किया।