Isis Module Saquib Nachan
साकिब नाचन

Loading

ठाणे : राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने शनिवार को महाराष्ट्र और कर्नाटक के कई ठिकानों पर जब छापा मारा तो पता चला कि यहां के लोगों का आईएसआईएस से भी कनेक्शन है। भारत की धरती पर आईएसआईएस के आतंकियों की द्वारा अपना नेटवर्क बढ़ाने व देश में आतंकी हमले करने की रची जा रही साजिश का भी खुलासा हुआ है। इस दौरान देश भर के 44 जगह पर मारी गई। छापेमारी में 15 आतंकियों को गिरफ्तार करने में सफलता मिली है। सबसे हैरान करने वाली बात यह है कि आईएसआईएस के आतंकियों ने महाराष्ट्र के एक गांव को आजाद घोषित करते हुए वहीं से सारी मुहिम को अंजाम देने की पहल शुरू की है।

NIA Raids
NIA के छापे

ये हैं पकड़े गए आतंकी 
एनआईए से मिली जानकारी के अनुसार इस छापेमारी के दौरान खतरनाक हथियार, दस्तावेज, स्मार्टफोन, डिजिटल डिवाइस के साथ-साथ नगदी भी बरामद हुई है। इस पूरे आतंकी नेटवर्क का सरगना साकिब नाचन माना जा रहा है। NIA ने मुंबई में छापेमारी करके बोरीवली-पडघा से साकिब नाचन, हासिब मुल्ला, मुसाब मुल्ला, रेहान सुसे, फरहान सुसे, फिरोज कुवार, आदिल खोत, मुखलिस नाचन, सैफ आतिक नाचन, याह्या खोत, राफिल नाचन, राज़िल नाचन, शकुब दिवकर, कासीफ बेलारे एवं मुनज़ीर केपी जैसे शातिर किस्म के आतंकियों को गिरफ्तार किया है। एनआईए की इस ताबड़तोड़ कार्रवाई से पूरे नेटवर्क में हड़कंप मच गया।

आतंकी नेटवर्क का सरगना साकिब नाचन को मुंबई बम धमाके के मामले में 10 साल की सजा हो चुकी है। एनआईए के अधिकारियों की माने तो इस इस के मॉड्यूल के लीडर को गिरफ्तार किया गया है। यही नए आतंकियों की भर्ती का काम देखता था। साथ ही देशभर में अपना जाल फैलाने की कोशिश कर रहा था। 

ड्रोन से अटैक की ट्रेनिंग 
बताया जा रहा है कि 9 दिसंबर 2023 दिन शनिवार की रात 3 बजे ठाणे के पडघा-बोरीवली गांव में अचानक पुलिस की 20 गाड़ियां आ धमकीं। इन गाड़ियों से 400 पुलिसवाले और सिविल ड्रेस में शामिल थे। इस दौरान एनआईए के लोगों ने गांव में घुसकर एक-एक घर की तलाशी लेना शुरू कर दिया। इतना ही नहीं कई घरों में बंद अलमारियों, बेड और बॉक्स के तालों तोड़कर सारा सामान चेक किया।

Isis Module Saquib Nachan
बोरीवली-पडघा में एनआईए का छापा

एनआईए ने करीब 50 घरों में तलाशी के बाद संदिग्ध 15 लोगों को हिरासत में ले लिया। ये 15 लोग गांव के सबसे प्रभावशाली और अमीर लोगों में गिने जाते हैं। इनमें इनका सरगना साकिब माचन भी शामिल है, जो 2002 और 2003 में मुंबई में हुए बम धमाकों का मास्टरमाइंड बताया जाता रहा है। वह 20 साल जेल में काट चुका है। एनआई के सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार साकिब इस गांव में अपनी गैंगे के साथियों को ड्रोन से अटैक की ट्रेनिंग दे रहा था।

अभी तक की गयी आरंभिक जांच से यह पता चला है कि गिरफ्तार आरोपियों ने ठाणे के ग्रामीण इलाके के पडघा गांव को ‘लिवरेटेड जोन’ और ‘अल शाम’ के रूप में नामित कर रखा था। पडघा को अपने बेस-कैंप के रूप में मजबूत करने के लिए प्रभावशाली मुस्लिम युवाओं को अपने निवास स्थान से पडघा में स्थानांतरित होने के लिए प्रेरित किया जा रहा था। 

अरीब मजीद का है नाचन से रिश्ता
NIA ने यहां पर अरीब मजीद के आवास की भी तलाशी ली, जो इस्लामिक स्टेट समूह में शामिल होने के लिए पहले  इराक गया था। वहां आईएसआईएस के काम में भागीदार रहा है। इसके बाद वह भारत लौट आया। अरीब मजीद नाचन का बहनोई बताया जाता है। उसको 11 दिसंबर को मुंबई में एनआईए मुख्यालय में पेश होने के लिए बुलाया गया है।

कहां है ये गांव 
बोरीवली-पडघा महाराष्ट्र राज्य के ठाणे जिले के भिवंडी तालुका का एक जुड़वां गांव है। यह इलाका कोंकण क्षेत्र के अंतर्गत गिना जाता है। यह जिला ठाणे से पूर्व की ओर लगभग 35 किलोमीटर की दूर स्थित है। इस गांव से कई जगहों की अच्छी कनेक्टिविटी है। कहा जाता है कि कपड़ा विनिर्माण शहर भिवंडी से 18 किलोमीटर, रेलवे जंक्शन कल्याण से 23 किलोमीटर, ठाणे जिला मुख्यालय से 35 किलोमीटर और महाराष्ट्र राज्य की राजधानी मुंबई से 59 किलोमीटर दूर है।

बोरीवली-पडघा गांव NH3 पर स्थित हैं। ये गांव महुली पहाड़ियों की ढलानों से घिरे हुए हैं। निकटतम रेलवे स्टेशन खडावली है जो 6 किमी दूर है और मध्य रेलवे आसनगांव कसारा रेलवे लाइन पर स्थित है। निकटतम अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा छत्रपति शिवाजी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा है जो 53 किमी दूर है।

बोरीवली गांव में 90 प्रतिशत कोकणी मुस्लिम आबादी है और शेष बौद्ध और आदिवासी किस्म के लोग हैं। पडघा गांव में 80% हिंदू रहा करते हैं, जबकि शेष बौद्ध और मुस्लिम हैं।