MNS sabotage Kasheli toll naka

    भिवंडी. भिवंडी – ठाणे सड़क (Bhiwandi-Thane Road) पर बेशुमार गड्ढों (Potholes) को लेकर आक्रोशित मनसे कार्यकर्ताओं (MNS Workers) ने कशेली (Kasheli) स्थित टोल नाका (Toll Naka) पर तोड़फोड़ की घटना को अंजाम दिया। भिवंडी- ठाणे सड़क को ठीक करने के लिए मनसे कार्यकर्ताओं ने कई बार आंदोलन कर सड़क की मरम्मत करने की मांग की थी, लेकिन टोल वसूल करने वाली कल्याण संगम इंफ्रा कंपनी के साथ पीडब्ल्यूडी विभाग ने मनसे के कार्यकर्ताओं की मांग को नजर अंदाज किया। जिससे नाराज कार्यकर्ताओं ने अपना आक्रोश टोल नाका पर तोड़फोड़ कर व्यक्त किया।

    गौरतलब है कि कुछ दिन पहले मनसे के प्रदेश उपाध्यक्ष ड. के. म्हात्रे के नेतृत्व में मनसे कार्यकर्ताओं ने कशेली टोल नाका पर मुंडन आंदोलन किया था। उसी समय मनसे के कार्यकर्ताओं ने टोल वसूल करने वाली कंपनी को चेतावनी दी थी कि गणेशोत्सव से पहले सड़क पर हुए गड्ढे को पूरी तरह से मरम्मत कर सड़क को ठीक कराया जाए अन्यथा मनसे अपने स्टाइल में आंदोलन करेगी। लेकिन मनसे कार्यकर्ताओं द्वारा दी गई चेतावनी को टोल वसूल करने वाली कल्याण संगम इंफ्रा लिमिटेड कंपनी और  पीडब्ल्यूडी विभाग के संबंधित अधिकारियों ने नजर अंदाज करते हुए हल्के में लिया और रास्ता की मरम्मत न करते हुए टोल वसूली जारी रखी थी।

    अधिकारियों के प्रति अपना गुस्सा प्रकट किया

    सड़कों पर हुए बेशुमार गड्ढों के कारण भिवंडी ठाणे सड़क पर 24 घंटे जाम लगा रहता है, जिससे नागरिकों को भारी परेशानी उठानी पड़ती थी। अंततः रविवार को सार्वजनिक गणेशोत्सव त्यौहार समाप्त होने के बाद सोमवार को सुबह मनसे के जिला सचिव संजय पाटिल और  मनसे वाहतूक सेना के तालुका अध्यक्ष संतोष म्हात्रे के नेतृत्व में मनसे कार्यकर्ताओं ने कशेली स्थित टोल नाका पर तोड़फोड़ की घटना का अंजाम देकर टोल वसूलने वाली कंपनी और पीडब्ल्यूडी के संबंधित अधिकारियों के प्रति अपना गुस्सा प्रकट किया।