Ulhasnagar Support

    उल्हासनगर: शिवसेना से बगावत कर बीजेपी से गठबंधन कर राज्य में सत्ता हासिल करने की कवायद में दो दिन से लगे राज्य के नगरविकास मंत्री एकनाथ शिंदे (Eknath Shinde) के समर्थन (Support) में अब स्थानिक स्वराज्य संस्थाओं के पूर्व जनप्रतिनिधि और संगठन से जुड़े शिवसैनिक जो मंगलवार की रात तक बयान देने से पूरी तरह कतरा रहे थे, लेकिन अब पालकमंत्री एकनाथ शिंदे के सर्मथन में धीरे-धीरे आने लगे है। 

    उल्हासनगर महानगरपालिका की पूर्व महापौर लीलाबाई आशान (Former Mayor Lilabai Ashan) जिनका महापौर का कार्यकाल इसी साल 4 अप्रैल को पूरा हुआ है वह और उनके पुत्र और शिवसेना के पूर्व नगरसेवक अरुण आशान शिवसेना  के बागी एकनाथ शिंदे के समर्थन में खुलकर सामने आ गए है।

    समर्थन में सोशल मीडिया पर बैनर पोस्ट भी किया 

    उन्होंने एकनाथ शिंदे के समर्थन में स्थानीय सोशल मीडिया पर बैनर पोस्ट भी किया है।  महापौर के पुत्र अरुण आशान ने स्वीकारा की वह पहले भी अपने नेता एकनाथ शिंदे के साथ थे अब भी हम लोग उनके साथ है। वहीं, शहर के अन्य और निष्ठावान शिवसैनिकों से प्रतिक्रिया के लिए संपर्क किया गया इनमें से कुछ ने तो फोन अटेंड नहीं किया और दो बड़े नेताओं ने फोन तो रिसीव किया, लेकिन एकनाथ शिंदे के मुद्दे पर कुछ भी बोलने से इंकार कर दिया।