स्काई वॉक की हालत जर्जर, प्रशासन की आंखें बंद

    उल्हासनगर : स्थानीय रेलवे स्टेशन (Railway Station) के दोनों ओर एमएमआरडीए (MMRDA) द्वारा बारह साल पहले बनाए गए स्काई वॉक (Sky Walk) की देखभाल उचित तरीके से न किए जाने के कारण वर्तमान समय में स्काई वॉक आज खुद टुटने के कगार पर है, कई सीढ़ियां टूट चुकी हूं, टाइलें उखड़ चुकी है, कही पर छत नहीं है, ऊक्त स्काई वॉक की मरम्मत कराए जाने की जरूरत महसूस की जा रही है। नशेड़ियों द्वारा भी इस जगह का इस्तेमाल करते देखा जा सकता है। 

    शहर की एक सामाजिक संस्था एक हाथ मदतीचा के अध्यक्ष विजय कदम ने अपने अन्य पदाधिकारियों के साथ ऊक्त स्काई वॉक का दौरा किया और करीब से यहां की समस्याओं को देखा। विजय कदम ने अपने निरीक्षण बाद एमएमआरडीए, महानगरपालिका को निवेदन पत्र के माध्यम से स्काई वॉक को अच्छा बनाने का आग्रह किया और पुलिस उपायुक्त सुधाकर पाठारे को पत्र लिखकर स्काई वॉक पर पुलिस कर्मचारी की तैनाती की मांग की है ताकि नशेड़ियों को यहां पनाह न मिल सके। कदम ने डीसीपी पाठारे को दिए निवेदन में लिखा है कि स्काई वॉक पर नशा करने वाले युवक देखें जा सकते है। जिसे महिलाओं और स्कूली बच्चों में भय का माहौल रहता है। इसलिए दोनों छोर पर पुलिस की सुरक्षा व्यवस्था रखी जाए ताकि भविष्य में कोई अनहोनी न हो सके। बिजली की पर्याप्त रोशनी करने की भी मांग कदम ने की है। 

    स्काई वॉक की स्थिति से भली भांति परिचित हूं, इससे पहले शिकायत मिलने पर महकमे के माध्यम से कुछ काम करवाया है, लेकिन अब स्थिति ठीक नहीं है स्काई वॉक की छत को सही ढंग से बनाया जाए। टूटी टाइल्स के स्थान पर अच्छी टाइल्स लगवाने, बिजली की उचित व्यवस्था, महिलाएं सुरक्षित होकर स्काई वॉक से जाए इसलिए यहां पुलिस की तैनाती जैसे मुद्दों को लेकर में एमएमआरडीए और पुलिस महकमे के संबंधित अधिकारियों से प्रत्यक्ष भेंट करूंगा। – कुमार आयलानी, विधायक, उल्हासनगर विधानसभा क्षेत्र।