There was chaos due to the collapse of the balcony of the four-storey building, KDMC will take decision after audit report

    कल्याण. डोंबिवली (Dombivli) के श्रीधर म्हात्रेवाड़ी (Sridhar Mhatrewadi) में अचानक एक चार मंजिली इमारत (Building) की बालकनी गिरने (Collapsed) से परिसर में अफरा-तफरी मच गई। यह इमारत 29 साल पुरानी थी। गनीमत यह रही है कि इस घटना में कोई घायल (Injured) नहीं हुआ। मलबे (Debris) को हटाने के लिए दमकल कर्मियों (Fire Fighters) की मदद ली गई है। 

    मिली जानकारी के मुताबिक  5 साल पहले बिल्डिंग का स्ट्रक्चर ऑडिट हुआ था। जिसके बाद इमारत की मरम्मत भी की गई थी, लेकिन अचानक सोमवार को त्रिभुवन ज्योति नामक चार मंजिला  इमारत के आखिरी मंजिल का एक हिस्सा गिरने से अफरा-तफरी मच गई। घटना की सूचना मिलने के बाद डोंबिवली युवासेना के पदाधिकारी राहुल म्हात्रे एवं पूर्व नगरसेवक जनार्दन म्हात्रे ने दौरा किया और रहिवाशियों की हर संभव मदद करने की बात कही। वहीं इस मामले में वार्ड आफिसर सुहास गुप्ते ने कहा कि उक्त इमारत के  जर्जर होने का नोटिस संबंधितों को दिया गया था, फिलहाल स्ट्रक्चर ऑडिट का काम चालू है, ऑडिट रिपोर्ट के बाद ही कोई निर्णय केडीएमसी प्रशासन द्वारा लिया जाएगा।

    गौरतलब  है की यह कोई पहली बार इस तरह की घटना घटित नहीं हुई है।जुलाई महीनें में भी ठाणे जिले के कल्याण शहर में भी एक इमारत की बालकनी का एक हिस्सा गिर गया। जहां  अधिकारियों के अनुसार घटना में कोई घायल नहीं हुआ था। मिली जानकारी के मुताबिक इनमें से अधिकांश इमारतों का निर्माण निम्न गुणवत्ता वाली रेत से किया गया था।