Ambernath Murder Case

Loading

  • अंबरनाथ में हुए कत्ल का खुला राज
  • पत्नी ने प्रेमी के साथ मिलकर कराई हत्या
  • हत्या के बाद ट्रेन से दिल्ली भाग गए थे हत्यारे
  • 30 लाख की सुपारी में हत्यारों को मिले केवल दस हजार
अंबरनाथ: शहर में 25 फरवरी को ड्यूटी पर जा रहे एक व्यक्ति की चाकू मारकर हत्या की गई थी। हत्याकांड मामले में मृतक की पत्नी समेत तीन अन्य को दिल्ली से गिरफ्तार किया गया है। जांच के दौरान यह खुलासा हुआ कि मृतक की पत्नी का प्रेम संबंध अन्य के साथ था। पति को पत्नी के अवैध संबंध का पता चल गया था। जिसके बाद पत्नी ने प्रेमी के साथ मिल कर पति के हत्या की साज़िश रची। पत्नी व प्रेमी द्वारा हत्या की सुपारी दी गई थी। उल्हासनगर क्राइम ब्रांच की टीम ने आरोपियों को दिल्ली से गिरफ्तार किया और उन्हें कोर्ट में पेश करने पर 5 फरवरी तक पुलिस हिरासत में भेज दिया गया है।
 
कल्याण बदलापुर रोड़ पर गणपत ढाबे के सामने रमेश झा नामक व्यक्ति की उस समय चाकू के घातक प्रहार से हत्या कर दी गई थी जब वह कंपनी में काम पर जा रहा था। पुलिस द्वारा जांच शुरू की गई तो पता चला कि मृतक की पत्नी सुमन व महेंद्र की मिलीभगत से तीन लोगों ने इस हत्याकांड को अंजाम दिया है। वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक जगन्नाथ कलस्कर ने बताया कि हत्या करने के बाद हत्यारे कल्याण स्टेशन से ट्रेन पकड़कर दिल्ली के लिए निकल गए थे उनके पहुंचने से पहले ही क्राइम ब्रांच की टीम प्लेन से दिल्ली पहुंच गई और दिल्ली स्टेशन पर उतरने से पहले उन्हें गिरफ्तार कर लिया।
 
 
सुमन दस वर्षों तक दिल्ली में रही थी जहां पर उसके महेंद्र से प्रेम संबंध थे, मुंबई आने और पति के साथ रहने पर भी सुमन महेंद्र के संपर्क में थी और प्रेम संबंध में बाधक बने पति को रास्ते से हटाना चाहती थी। इसके लिए महेंद्र व सुमन ने तीस लाख में हत्या की सुपारी दी थी और दस हजार रुपए अग्रिम राशि हत्यारों को दी थी। दीपक कुमार भुटन शाह, संतोष रमेश गुप्ता व एक नाबालिग ने इस हत्या को अंजाम दिया। सुमन व अन्य तीन आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। वहीं सुमन का प्रेमी महेंद्र अब तक फरार है और दिल्ली में छुपा है जिसकी तलाश की जा रही है। क्राइम ब्रांच की टीम ने अंबरनाथ पुलिस के साथ मिलकर इस घटना का खुलासा किया है।