Parambir Singh approaches Mumbai court, appeals for cancellation of court proclamation order against him
File

    मुंबई: मुंबई (Mumbai) के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह (Former Mumbai Police Commissioner Param Bir Singh) की मुश्किलें और भी ज़्यादा बढ़ती हुई नज़र आ रही हैं। सिंह के खिलाफ बुधवार को कोर्ट ने तीसरा गैर-जमानती वारंट (Non-Bailable Warrant) जारी कर दिया है। बताया जा रहा है कि, परमबीर सिंह के खिलाफ रंगदारी के मामले में एक और गैर-जमानती वारंट जारी किया गया है। यह ताजा वारंट मुंबई के मरीन ड्राइव पुलिस थाने में दर्ज एक्सटॉर्शन केस में जारी किया गया है।   

    एएनआई के अनुसार, परमबीर सिंह के खिलाफ जारी यह तीसरा गैर जमानती वारंट है। यह तीसरा वारंट मरीन ड्राइव थाने में दर्ज रंगदारी के मामले में है जिसमें राज्य सीआईडी ने पुलिस इंस्पेक्टर नंदकुमार गोपाल और आशा कोर्के को गिरफ्तार किया था। 

    बता दें कि, इस मामले में मुंबई की एक अदालत ने मंगलवार को कथित वसूली के मामले में दो पुलिस अधिकारियों को सात दिन के लिए महाराष्ट्र के अपराध जांच विभाग (सीआईडी) (CID) की हिरासत में भेज दिया। इस मामले में मुंबई के पूर्व पुलिस आयुक्त परमबीर सिंह भी आरोपी हैं। विशेष सरकार वकील शेखर जगताप ने गिरफ्तार अधिकारियों की हिरासत की मांग करते हुए अदालत से कहा कि सिंह ने मुंबई पुलिस की ‘खराब छवि’ बनाई। सीआईडी ने इस मामले में सिंह के विरूद्ध गैर जमानती वारंट जारी करने की भी मांग की थी।

    इससे पहले वसूली के दो अन्य मामलों में सिंह के खिलाफ वारंट जारी किए जा चुके हैं। हालांकि फिलहाल ये साफ़ नहीं है कि सिंह अभी कहां हैं। कुछ राजनेताओं के अनुसार वे देश में नहीं हैं।