संगठन में बढ़ा विनोद तावड़े का कद, भाजपा ने प्रमोशन कर बनाया राष्ट्रीय महासचिव

    संगठन के व्यक्ति रहे हैं विनोद तावड़े

    मुंबई: राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के आनुषांगिक संगठन अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (अभाविप) में छात्र नेता से लेकर 12वें और 13 वें लोकसभा चुनावों में भाजपा के समन्वय पैनल के अहम सदस्य बनने तथा बाद में 2014 में पिछली महाराष्ट्र सरकार में मंत्री के रूप में काम करने तक विनोद तावड़े इस भगवा दल के लिए सदैव संगठन के व्यक्ति रहे हैं। 

    महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस के राजनीतिक प्रतिद्वंद्वी समझे जाने वाले वरिष्ठ भाजपा नेता तावड़े को राजनीतिक रूप से अहम उत्तर प्रदेश, पंजाब और उत्तराखंड समेत पांच राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले रविवार को प्रोन्नत कर भाजपा महासचिव बनाया गया। भाजपा के राष्ट्रीय सचिव रहे तावड़े को महासचिव बनाया गया है । यह पद भूपेंद्र यादव को मंत्री बनाये जाने के बाद खाली हुआ था।

    तावड़े ने अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद में छात्र नेता के रूप में अपने करियर की शुरुआत की थी। वह बाद में अभाविप में अखिल भारतीय महासचिव बने। उन्होंने प्रदेश भाजपा महासचिव बनने से पहले भाजपा संगठन सचिव (उत्तरी महाराष्ट्र) के रूप में कार्य किया था। बाद में वह विधानपरिषद सदस्य बने तथा 2011 एवं 2014 में विपक्ष के नेता। वह भाजपा की मुंबई इकाई के प्रमुख के रूप में भी पार्टी को अपनी सेवा दे चुके हैं। 

    वह 12वें एवं 13 वें लोकसभा चुनावों के लिए भाजपा की समन्वय समिति के अहम सदस्य रहे हैं। वह 2014 में पहली बार बोरिवली विधानसभा क्षेत्र से विधायक बने। वह 2014 से 2019 तक फड़णवीस सरकार में शिक्षा मंत्री रहे। हालांकि उन्हें 2019 में महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में टिकट नहीं दिया गया।