महाराष्ट्र में बंद के दौरान हुई हिंसा; सैकड़ो दुकानों में हुई तोड़फोड़, ASP समेत 13 घायल

    मुंबई: त्रिपुरा में कथित तौर पर गिराए गए मस्जिद को लेकर बुलाये गए बंद में जोरदार हिंसा हुई है। इस हिंसा की आग राज्य के नांदेड, नाशिक के मालेगांव के साथ अमरावती में जोरदार हिंसा हुई। इस दौरान उपद्रवियों ने सैकड़ो दुकानों में तोड़फोड़ कर उन्हें लुट लिया। वहीं वहां मौजूद गाड़ियों में भी जोरदार तोड़फोड़ की गई। इस हिंसा में एडिशनल एसपी समेत चार पुलिसवाले घायल हुए, वहीं छह आम लोग भी घायल हुए हैं। जिन्हें अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया है। 

    त्रिपुरा में हुई हिंसा को लेकर राज्य में मुस्लिम संगठनों ने बंद और रैली बुलाई थी। लेकिन यह रैली हिंसक हो गई। जिसका सबसे ज्यादा असर नांदेड, नाशिक के मालेगांव और अमरावती में हुआ। उपद्रवियों ने जबरदस्त उत्पात मचाया, कई जगह दूकानों पर पथराव किया।

    जानकारी के मुताबिक, पुलिस की गाड़ी पर भी पथराव किया गया है। जिसमें एक एसआई सहित 7 पुलिसकर्मी गंभीर रूप से घायल हो गए है। वहीं अमरावती में प्रदर्शन के दौरान 20 से ज्यादा दुकानों में तोड़फोड़ की जाने की घटना सामने आई है। 

    मिली जानकारी के अनुसार, त्रिपुरा हिंसा को लेकर नासिक के मालेगांव में समुदाय विशेष ने अब्दुल हमीद चौक पर प्रदर्शन और रैली निकाली थी लेकिन रैली के बीच एक ही समुदाय के दो ग्रुप आपस मे भिड़ गए और जबरदस्त पथराव हुआ। घटना के वक्त वह पर 5 से 6 हजार लोगों की भीड़ मौजूद थे और पुलिस बल भी उपस्थित थे। वहीं एक समुदाय के दो धड़ों में हुए पथराव के बाद पूरे शहर में तनाव बढ़ गया है। कई गाड़ियों पर भी पथराव किया गया है।