Hinganghat Road Accident

  • ग्रामीणों ने जलाया टिप्पर, मजदूरों को ले जा रहे आटो को कुचला

Loading

हिंगनघाट. मजदूरों को ले जा रहे सवारी आटो को विरुध्द दिशा से आ रहे तेज रफ्तार टिप्पर ने जबरदस्त टक्कर मार दी. उक्त हादसा सावली (वाघ) समीप घटा. हादसा इतना भीषण था कि इसमें दो महिला मजदूरों की मौके पर ही मौत हो गई. वहीं आटो चालक सहित अन्य 7 गंभीर रूप से घायल हो गए. दुर्घटना के बाद संतप्त ग्रामीणों ने टिप्पर को आग के हवाले कर दिया.

जानकारी के अनुसार स्थानीय संत चोखोबा वार्ड से हमेशा की तरह सोमवार की सुबह शेख शाहिद शेख हारून (32) आटो क्रं. एमएच 32 सी 9614 लेकर पहुंचा, जहां से महिला मजदूरों को लेकर वह सेलू (मुरपाड) निवासी बोरकर के खेत में कपास वेचाई के लिए जा रहा था.

सावली (वाघ) समीप हनुमान मंदिर के पास हिंगनघाट की ओर आ रहे गिट्टी की डस्ट से लदे तेज रफ्तार टिप्पर क्रमांक एमएच 32 जे 2609 ने आटो को जोरदार टक्कर मार दी. हादसा इतना भीषण था कि आटो सहित मजदूर दूर फेंक दिये गए. इसमें चिंधाबाई मारुती कात्रे (50) की मौके पर ही मृत्यु हुई.

वहीं आटो चालक सहित अन्य गंभीर रूप से घायल हो गए. घटनास्थल पर ग्रामीणों ने भीड़ की. सभी घायलों को हिंगनघाट के उपजिला अस्पताल में दाखिल किया गया, जहां से सभी को सेवाग्राम रेफर करते समय संगीता बबन कापटे (45) ने रास्ते में ही दम तोड़ दिया. अन्य घायलों में आटो चालक चोकोबा वार्ड निवासी शेख शाहिद शेख हारून (32), पुष्पा शंकर मेकलवार (45), मंदा विलास तिवाडे (40), गायत्री बबन कापटे (20), कमला सोपान मातकर (60), कुसुम प्रकाश मुन (53), शारदा रामदास कांदे (30) का समावेश है.

टिप्पर चालक मौके से भाग निकला 

हादसा इतना भीषण था कि आटो के परखच्चे उड़ गए थे. सभी महिला मजदूरों के भोजन के डिब्बे व अन्य सामाना बिखरा पड़ा था. यह नजारा देखने के बाद गुस्साएं ग्रामीणों ने टिप्पर को आग लगा दी. हादसे के बाद टिप्पर चालक घटनास्थल से फरार हो गया. इस आगजनी में टिप्पर का सामने का हिस्सा जल गया था. सूचना मिलते ही हिंगनघाट पुलिस घटनास्थल पर पहुंची. टैंकर की मदद से टिप्पर पर पानी का छिड़काव किया गया. सभी घायलों पर सेवाग्राम के अस्पताल में उपचार चल रहा है. प्रकरण में टिप्पर चालक के खिलाफ मामला दर्ज कर आगे की जांच पुलिस ने शुरू कर दी है.