BJYM का टोपी दिवस आंदोलन, स्वास्थ्य मंत्री टोपे का किया निषेध

    वर्धा. 25 व 26 सितंबर को होनेवाली स्वास्थ्य विभाग की परीक्षा ऐन मौके पर रद्द कर दी गई़ इस कारण परीक्षार्थियों में खलबली मच गई़  उन्हें परेशानियों का सामना करना पड़ा. इसके विरोध में भारतीय जनता युवा मोर्चा की ओर से जिलाध्यक्ष वरूण पाठक के नेतृत्व में छत्रपति शिवाजी महाराज चौराहे पर वैश्विक टोपी दिवस आंदोलन करते हुए स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे का निषेध किया गया.

    स्वास्थ्य विभाग की परीक्षा राज्य सरकार ने कुछ ही घंटे शेष रहे अचानक रद्द कर दी़  यह अत्यंत गैरजिम्मेदाराना हरकत है. विद्यार्थियों के भविष्य से खिलवाड़ किया गया़  स्वास्थ्य मंत्री ने इतनी गंभीर बात होते हुए मात्र एक मीडिया बाइट देकर दिलगिरी व्यक्त की़  इतने पर यह विषय नहीं रुकेगा़  गरीब व जरूरतमंद विद्यार्थियों ने पैसे उधार लेकर परीक्षा की तैयारी की़  कुछ विद्यार्थी तो परीक्षा केंद्र पर पहुंचने के बाद उन्हें यह बात पता चली़  उनके नुकसान की भरपाई कौन देगा, यह सवाल भाजपा ने किया है़  

    विभाग की परीक्षा रद्द करने से रोष 

    स्वास्थ्य विभाग से परीक्षा की तिथि चार दिन के भीतर घोषित करने, गैरजिम्मेदार मंत्री को शीघ्र इस्तीफा देने सहित विविध मांगों को लेकर भारतीय जनता युवा मोर्चा ने विश्व टोपी दिवस आंदोलन किया़  आंदोलन में भाजयुमो के महासचिव गौरव गावंडे, राहुल करंडे, कृष्णा जोशी, घनश्याम अहेरी, प्रसाद फटिंग, रजत शेंडे, मोहित उमाटे, अतुल देशमुख, प्रिया ओझा, सुनील साठवणे, शुभम दुबे, शुभम खंडारे, रोशन खिरकर, मोहन तलवेकर, गजानन कोल्हे, नीलेश गेडाम, जतीन जैन, यथार्थ बाजपाई, रुपेश महाजन, मयंक खंडागले, श्रेयस बमनोटे, करण सैनी, गौरव मोहिते, हिमांशू तिघारे, विक्की पिल्लेवार, ओमप्रकाश अहेरी, रजत राठी, मनोज गावंडे, वैभव वरघने, सिदांशु भसणे, आदित्य खंडारे, कुणाल दुरतकर, पवन सूर्यवंशी, विशाल कुमरे, अभि सुरसे, समीर लांजेवार, पदाधिकारी व सदस्य शामिल थे.