anthony church

  • रात्रि की प्रार्थना व सांस्कृतिक कार्यक्रम रद्द

वर्धा. कोरोना संकट के कारण इस वर्ष प्रभु यीशु का जन्म उत्सव सादगीपूर्ण तरीके से मनाया जाएंगा़ प्रतिवर्ष विविध सांस्कृतिक कार्यक्रम लिये जाते थे. इस बार सरकारी नियमों के तहत सभी कार्यक्रमों के साथ ही रात्रि 11.30 बजे होनेवाली विशेष प्रार्थना भी रद्द की गई है. उक्त जानकारी सेंट एन्थोनी चर्च के फादर राजू जोसेफ ने दी.

दुनिया व देश में कोरोना का हाहांकार मचा हुआ है. ऐसे में सरकार ने किसी भी सार्वजनिक कार्यक्रम को अनुमति नहीं दी है. नए कोरोना का संकट ध्यान में रखकर इस वर्ष प्रभु यीशु के जन्म का स्वागत सादगी से किया जाएगा. कोरोना संकट में भी हमारे उत्साह में कोई कमी नहीं है.

गुरुवार की शाम 6.30 बजे प्रार्थना ली गई, परंतु लॉकडाउन के चलते रात्रि 11.30 की प्रार्थना रद्द की गई़  शुक्रवार 25 दिसंबर को क्रिसमस पर सुबह 6.30 व 9 बजे प्रार्थना ली जाएगी. इसके अलावा होलीमास, यीशु जन्म का दृष्य प्रस्तुत किया जाएगा. चर्च को आकर्षक रोशनाई से सजाया गया है.

इस अवसर पर मात्र 50 लोग ही उपस्थित रहेंगे़ दस वर्ष से कम आयु वाले बच्चों तथा 60 वर्ष से अधिक आयुवाले बुजुर्गों को चर्च में आने की अनुमति नहीं रहेगी. दिनभर चलनेवाले सभी सांस्कृतिक कार्यक्रम रद्द किये गए है. सभी सरकारी नियमों का पालन किया जाएंगा. यीशु जन्म का स्वागत नागरिक अपने घरों में रहकर करें, ऐसा आह्वान फादर जोसेफ ने किया. साथ ही ऑनलाइन प्रार्थना व दर्शन की सुविधा उपलब्ध करायी गई है, ऐसी जानकारी भी उन्होंने दी.