File Photo
File Photo

    वर्धा. गत कुछ वर्षों से साइबर क्राइम के मामले बढ़ते जा रहे है़ आये दिन ऑनलाइन धोखाधड़ी होने के संबंध में साइबर पुलिस को शिकायतें प्राप्त हो रही है़  पिछले डेढ़ वर्षों में जिले में ऐसे 66 प्रकरण दर्ज किये गए़ इसके अलावा मौखीक शिकायतें भी प्राप्त हो रही है़  इसमें लोगों को करोड़ों की चपत लगायी गई है़ कुछ प्रकरणों में गई हुई राशि वापस लाने में साइबर पुलिस को सफलता भी मिली है़ गत कुछ महीनों से साइबर अपराधी फ्रॉड के नए-नए फंडे आजमा रहे है.

    साइबर अपराधी नागरिकों को ठग रहे हैं

    वर्तमान में अधिकांश कामकाज ऑनलाइन तरिके से चल रहा है़ किसी बात के लिए रजिस्ट्रेशन करना हो, किसी योजना के बारे में जानकारी, ऑनलाइन व्यवहार के काम चलते है़  इस बात का लाभ उठाकर साइबर अपराधी नागरिकों को ठग रहे है़ं पहले बैंक कर्मी बताकर लोगों को चपत लगायी जाती थी़ परंतु गत कुछ महीनों में पेंशन योजना, प्रलोभन की योजना, कंपनी में निवेश, सरकारी योजना के नाम पर ऑनलाइन फ्राड के मामले सामने आने लगे़  इसके बाद फेसबुक, इन्टाग्राम, वॉट्सएप पर अश्लील चाट कर ब्लैकमेलिंग कर लोगों से पैसे ऐंठने काम शुरू हुआ़  अब लोन एप, इलेक्ट्रिक बिल भरने तथा केबीसी के नाम पर धोखाधड़ी हो रही है. 

    नागरिकों से सतर्कता बतरने का आह्वान

    साइबर अपराधी नागरिकों को अपने झांसे में लेकर उनके बैंक खाते से पैसा ऑनलाइन उड़ा रहे है़ं  इन बातों से बचने के लिए नागरिकों ने सतर्कता बरतने का आह्वान साइबर पुलिस ने किया है़  गत वर्ष करिब 200 लोगों के बैंक खाते से 1 करोड़ 53 लाख रुपए पर हाथ साफ किया गया़  इनमें से कुछ शिकायतों पर सूजबूझ दिखाते हुए साइबर पुलिस ने करिब 95 लाख 95 हजार रुपये की राशि वापस लायी़, जिससे  पीड़ितों को काफी राहत मिली है.

    पांच माह में 16 मामले भी किए गए दर्ज

    इस वर्ष जनवरी से लेकर मई इन पांच माह में करिब 16 मामले दर्ज किये गए़  इनमें से 6 मामले उजागर कर 6 लोगों को हिरासत में लिया गया़  इसमें फेसबुक, वॉट्सएप, इंस्टाग्राम, प्रोफाइल हैक, अश्लील वीडियो, फोटो वायरल करके धमकी देने के 12 मामले है़  इन पांच माह में करिब 18 लाख 89  हजार 311 रुपयों की चपत लगाई़  इनमें से 7 लाख 94 हजार 398 रुपए साइबर पुलिस ने वापस लाये है़ं  15 लाख 29 हजार रुपए जाने संबंध में कई शिकायतें प्राप्त हुई है़ इस पर तुरंत एक्शन लेते हुए साइबर टीम को 15 लाख 35 हजार 999 रु़ वापस लाने में सफलता मिली है. 

    स्कूल और कालेजों में की जा रही जनजागृति

    ऑनलाइन फ्राड व सोशल साइट से जुड़े प्रकरणों पर स्कूल, कालेजों में जनजागृति की जा रही है़ सार्वजनिक स्थलों पर बैनर लगाये गए है़  एसटी महामंडल की बसों में पत्रक लगाये गए़  सोशल साइट के माध्यम से आम जनता के जानकारी भेजी जा रही है़  जिले में होने वाले सांस्कृतिक महोत्सव में साइबर क्राइम से जुड़े प्रकरणों पर जनजागरण किया जा रहा है़  इससे बचने के लिए नागरिकों ने सतर्क रहना जरूरी है.