नप प्रशासन के खिलाफ लोटांगन आंदोलन, श्रृंखलाबद्ध अनशन का रहा 58 वां दिन

    देवली (सं). अनेक वर्षों से ग्राउंड फ्लोअर पर चल रहा नगर परिषद का कामकाज कुछ कारण नहीं होने के बावजूद भी पहले मंजिल पर स्थलांतरित किया गया़  परिणामवश दिव्यांग व वृद्ध नागरिकों को कार्यालय में कामकाज के लिए जाना संभव नहीं हो रहा है़  इससे नप कार्यालय ग्राउंड फ्लोअर पर लाने की मांग को लेकर नागरिकों द्वारा श्रृंखलाबद्ध आंदोलन शुरू है़  आंदोलन के 58 वें दिन नागरिकों ने शहर के प्रमुख मार्गों से लोटांगन आंदोलन करते हुए मांगों की ओर ध्यानाकर्षण किया़  नगर परिषद प्रशासन का कार्यालय पिछले अनेक वर्षों से ग्राउंड प्लोअर पर ही था.  

    पहली मंजिल पर कार्यालय ले जाने का विरोध 

    इस दौरान निर्माण कार्य करके नप का सभी प्रशासनिक कार्य पहली मंजिल पर ले जाया गया है़  पहली मंजिल पर इमारत रहने से दिव्यांगों, वृद्ध नागरिकों को जाने के लिए लिफ्ट तथा अन्य सुविधा उपलब्ध करना जरूरी था़  किंतु इस ओर पूर्णत: अनदेखी की गई है़  परिणामवश नप कार्यालय में नहीं जा पाने के कारण दिक्कतें आ रही है, जिससे देवली की विभिन्न सामाजिक संगठनों ने श्रृंखलाबद्ध अनशन शुरू कर दिया है.  

    मांगों की ओर शासन का खींचा गया ध्यान 

    आंदोलन के 58 वें दिन शहर के मुख्य मार्गों से लोटांगन आंदोलन करते हुए नागरिकों ने प्रशासन का ध्यानाकर्षण किया़  इस दौरान किरण ठाकरे , प्रवीण कात्रे, प्रफुल रोकडे, संजय पोकले, खांडेकर, पिंटू ढाकुलकर, रमेश खांडेकर ने लोटांगन किया़  इस प्रसंग पर गौतम पोपटकर, स्वप्नील कामडी, गौरव खोपाल, श्याम रुद्रकार, नितिन देवगिरकर, कार्तिक राऊत, राहुल कामडी, मनोज नागपुरे, मनोज बेंडे, सागर पाटणकर, इरफान शेख, परवेज पटेल, पटेल, एतेंशाम शेख, समीर शेख, प्रफुल लाकडे, शंकर भनारकर, अनिल लाकडे, सागर पाटनकर, सतीश राऊत, अमोल झाड़े, सुमित झोरे, प्रशांत चहारे, संदीप वाणी, राहुल गाड़गे समेत नागरिक शामिल हुए थे.