विधायक ने रोका नाली का घटिया निर्माण, क्वालिटी कंट्रोल से कराएं कार्य का निरीक्षण

    आर्वी (सं). नांदपुर से आर्वी  मार्ग पर क्रांकिट नाली का निर्माण कार्य अत्यंत घटिया दर्जे का किया गया है. इस निर्माण कार्य में सीधे मिट्टी में ही सीमेंट  क्रांकिटिंग करने से उसमें दरारें निर्माण हुई है. इस बारे में क्वालिटी कंट्रोल से निरीक्षण करने तक नालियों का निर्माण कार्य न करने के निर्देश विधायक दादाराव केचे ने प्रत्यक्ष काम का निरीक्षण करते समय दिए.

    आर्वी से देऊरवाड़ा रास्ते के कार्य के लिए तत्कालीन मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस से 60 करोड़ 35 लाख 97 हजार 495 रुपये विधायक ने मंजूर कराए थे. इस सड़क पर कांक्रिट की नाली निर्माण करने का ठेका वेल्समन कंपनी को दिया था. इस काम के लिए 4 करोड़ 13 लाख 42 हजार 262 रुपये का प्रावधान किया गया है. इस नाली का निर्माण कार्य अत्यंत घटिया दर्जे का हो रहा है. वह एस्टीमेट के तहत नहीं होने की शिकायतें नागरिकों ने की है.

    अधिकारी, अभियंता से कराई गई जांच 

    विधायक केचे ने काम की प्रत्यक्ष निरीक्षण किया तब सीधे काली मिट्टी में कांक्रीट डालने का चित्र दिखाई दिया. उसका न खड़ीकरण किया गया, न ही मुरूम डाला गया. सीधे मिट्टी में क्रांक्रिट डाला गया. धनोडी में भी नाली निर्माण कार्य में दरारें पड़ी है. प्रत्यक्ष निरीक्षण करने के पश्चात यह बात सभी के ध्यान में आयी. इस प्रसंग पर उपविभागीय निर्माण कार्य विभाग के चोपडे, अभियंता नीलेश सनके, अभियंता चापले, अभियंता सागर देशमुख, वेल्समन कंपनी के पवन राणा आदि उपस्थित थे.