Talegaon Road, street Lights

    आर्वी (सं). आर्वी-तलेगांव रोड से वर्धा की ओर जानेवाले मार्ग पर टी पाइंट से पंचवटी तक डिवाइडर बनाकर स्ट्रीट लाइट लगाने की मांग अनेक महीनों से हो रही है. लेकिन संबंधितों द्वारा इस ओर अनदेखी की जा रही है. परिणामस्वरूप रात के समय मार्ग पर अंधेरे का साम्राज्य रहने से नागरिकों को आवागमन करने में काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है.

    विगत 2 वर्ष से आर्वी से वर्धा मार्ग का कार्य शुरू है़  यह कार्य अब अंतिम चरण में आ गया है़  उक्त मार्ग पर कई महाविद्यालय, स्कूल, नर्सरी है़ं  अधिकांश शिक्षक भी इसी परिसर में रहते है़.

    स्कूल, महाविद्याल, ट्यूशन क्लासेस के लिए जानेवाले विद्यार्थियों की संख्या मार्ग पर बड़ी है़  मार्ग पर सुबह से लेकर शाम तक हमेशा भीड़ रहती है़  मार्ग का कार्य पूर्ण होने के बाद तेजी से वाहन गुजरेंगे़  जिससे भविष्य में दुर्घटनाओं की संख्या में वृद्धि होने की संभावना है़  जिससे मार्ग पर गतिरोधक लगाने के साथ ही डिवाइडर बनाकर स्ट्रीट लाइट लगाए जाएं, ऐसी मांग की जा रही है. लेकिन कोई भी इस ओर ध्यान नहीं दे रहा है. जिससे नागरिकों की समस्या बढ़ गई है. 

    डिवाइडर भी नहीं बने

    मार्ग के निर्माणकार्य के दौरान किसी भी प्रकार की खामियां रहनी नहीं चाहिए. इसके लिए लोकनिर्माण विभाग संबंधित निर्माणकार्य पर ध्यान देना चाहिए़  ठेकेदार को समय-समय पर सूचना देने की जरूरत है़  लेकिन मांग करने के बावजूद भी टी पॉइंट से तलेगांव तक डिवाइडर नहीं बनाए गए हैं. जिस कारण लोगों को काफी परेशानी हो रही है. 

    असामाजिक तत्वों का जमावड़ा

    परिसर में रात के समय अंधेरे का साम्राज्य रहता है. जिससे यहां असामाजिक तत्वों का जमावड़ा रहता है. जिस कारण कोई अप्रिय घटनाएं होने की संभावना नकारी नहीं जा सकती है. जिससे अब परिसर में स्ट्रीट लाइट लगाने की मांग की जा रही है.

    4 माह में ही उखड़ने लगा मार्ग

    पंचवटी तक जानेवाले मार्ग का निर्माण चार माह पूर्व ही बना है. लेकिन चार माह में ही मार्ग उखड़ने लगा है.  जिससे अभी से यह हाल है तो बारिश में क्या होगा? ऐसा सवाल नागरिक उपस्थित कर रहे हैं.