court
File Photo

Loading

वर्धा. नाबालिग बेटी के साथ दुराचार करने वाले पिता व उसे साथ देने वाली मां को न्यायालय ने 2 वर्ष की सजा सुनाई़ उक्त निर्णय जिला व सत्र न्यायाधीश-1 एनबी शिंदे ने दिया़ आर्वी तहसील के एक गांव में आरोपी पिता अपनी बेटी को मानसिक व शारिरीक रूप से प्रताड़ित किया करता था़ यह बात मुंबई के चाइल्ड हेड आफिस तक जा पहुंची.

पीड़िता के साथ मारपीट, पत्थर, कैंची से उसके शरीर पर चोट पहुंचाई जा रही थी़ प्रकरण में पुलगांव पुलिस ने मामा दर्ज कर लिया़ जांच पड़ताल के बाद तत्कालीन पीएसआय अमोल कोल्हे ने प्रकरण न्यायप्रविष्ट कर दिया.

सरकारी पक्ष की ओर से एड. प्रमिला तिबुडे ने काम संभाला़ उन्हें पैरवी अधिकारी अनंत रिंगने ने मदद की़ दोनों पक्षों की दलीलें सुनने के बाद न्यायाधीश एनबी शिंदे ने उक्त निर्णय दिया.