सरपंचों ने किया सांकेतिक अनशन, ग्रामसभा पर बहिष्कार का लिया निर्णय

    समुद्रपुर(सं). प्रशासन की तकनीकी प्रणाली में अनियमितता की वजह से प्रधानमंत्री घरकुल योजना के (ड) परिपत्रक अंतिम सूची से नाम बाहर होने से अनेक जरूरतमंद परिवारों का घर का सपना अधूरा रह गया है़, जिससे सरपंचों ने रविवार को हुई ग्रामसभा पर बहिष्कार डालने का निर्णय लिया़ पंचायत समिति के सामने एक दिवसीय सांकेतिक अनशन की घोषणा की़ इस बारे में गुटविकास अधिकारी, तहसीलदार, थानेदार को निवेदन भेजा गया है.

    इनके पास घर नहीं उनके पास 2 घर होने की गलत जानकारी दी गई़ साथ ही दुपहिया, चौपहिया, टीवी, फ्रिज आदि उपकरण होने की गलत जानकारी सर्वे में है़ इससे पुन: सर्वेक्षण कर समस्या का निराकरण करें. गलत तरीके से सर्वे करने वालों पर कारवाई करें. आदि मांग सरपंचों ने की.

    इस प्रसंग पर सरपंच संगठन जिला सचिव सचिन गावंडे, तहसील अध्यक्ष किशोर नेवल, उपाध्यक्ष मुरलीधर चौधरी, उपाध्यक्ष संध्या डांगरी, गणवीर, उत्तम घुमडे, राजू नौकरकर, जगदीश वलतकर, ईश्वर सुपारे, विलास नवघरे, शारदा तुमडाम, उमेश चौधरी, प्रवीण साटोने, रोशन पांगुल, हेमलता तुलणकर, चित्रा पुसदेकर समेत सरपंच बड़ी संख्या में उपस्थित थे.