Wardha ROB

    वर्धा. स्थानीय बजाज चौक में स्थित आचार्य विनोबा भावे रेलवे उड़ान पुल (ROB) पर हमेशा यातायात की समस्या रहती है. यह बात ध्यान में लेकर पुल का चौड़ाईकरण किया गया. रेलवे लाइन पर तैयार हो रहे गर्डर के डिजाइन में बार-बार बदलाव किए जाने से निर्माण कार्य में देरी हुई. परंतु फिलहाल यह काम तेजी से शुरू होकर शीघ्र पूर्ण होकर रेलवे उड़ान पुल नागरिकों की सेवा में उपलब्ध होगा. शहर का प्रवेश द्वार होने वाले बजाज चौक के रेलवे उड़ान पुल पर यातायात अवरुद्ध होने की समस्या निर्माण होती थी, जिससे इसके विस्तार की मांग की जा रही थी.

    परंतु कोई भी इस ओर गंभीरता से ध्यान नहीं दे रहा था. परिणाम स्वरुप हर रोज की यातायात समस्या से नागरिक त्रस्त हुए थे. केन्द्र में भाजपा की सरकार आने के बाद केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी भूतल परिवहन मंत्रालय के प्रभारी हुए. उन्होंने देश में अनेक प्रकल्प शुरू किए. अक्टूबर 2014 में सर्कस मैदान पर हुए विधानसभा चुनाव की जाहिर सभा में उन्होंने रेलवे उड़ान पुल की समस्या का शीघ्र निराकरण करने की घोषणा की. 

    केंद्रीय मंत्री गड़करी की पहल तेज हुआ काम  

    केन्द्रीय निधि से उसका विस्तार करने का आश्वासन दिया. गडकरी की घोषणा के तहत रेलवे उड़ान पुल के विस्तारीकरण के लिए केंद्रीय निधि में प्रावधान किया गया. अक्टूबर 2016 में रेलवे उड़ान पुल का काम शुरू हुआ. यह काम नवंबर 2018 तक पूर्ण करना था. परंतु रेलवे विभाग की पुल की रचना में बदलाव होने से पुल का निर्माण कार्य निर्धारित समय में पूर्ण नहीं हो सका. फिलहाल काम शुरू है, जिससे पुल का निर्माण कार्य अब शीघ्र पूर्ण होने से नागरिकों की सेवा में उपलब्ध होगा.

    सांसद तड़स ने लोस में मुद्दा उठाकर खींचा था ध्यान 

    सांसद रामदास तड़स ने लोकसभा में मुद्दा उपस्थित किया था. जिले के चार रेलवे उड़ान पुल का काम अधर में अटकने से सांसद रामदास तड़स ने 11 फरवरी को प्रश्नोत्तर के समय पुल के निर्माण कार्य से संबंधित प्रश्न उपस्थित किया. इस पर गडकरी ने पुल का निर्माण कार्य शीघ्र पूर्ण किए जाने की घोषणा की थी.

    4 रेलवे उड़ान पुलों में से एक का काम पूर्ण

    यह प्रकरण संसद में उठने के बाद जिले के चार उड़ान पुल में से राष्ट्रीय महामार्ग पर होने वाले सालोड समीप उड़ान पुल का काम पूर्ण हुआ. सिंदी रेलवे उड़ान पुल का काम प्रगतिपथ पर है. परंतु वर्धा व पुलगांव के उड़ान पुल का काम पूर्ण नहीं हुआ है.

    नए वर्ष के आगमन तक करनी होगी प्रतीक्षा

    नई रचना से पुल का निर्माण कार्य फैब्रिकेशन पैटर्न में होगा. यह काम शुरू किया गया है, लेकिन नागरिकों को नए वर्ष के आगमन तक प्रतीक्षा करनी पड़ेगी.

    कुछ माह में पूर्ण हो जाएगा शेष निर्माण

    रेलवे विभाग की नई रचना के तहत रेलवे ट्रैक के ऊपरी हिस्से का निर्माण कार्य नई तकनीक से पूरा किया जाएगा. यह बनावट का काम है. ठेकेदार ने सामग्री खरीदी की है. ठेकेदार द्वारा शीघ्र फैब्रिकेशन का काम शुरू किया जाएगा. आगामी तीन से चार माह में काम पूर्ण होगा.

    गर्डर डालने का काम हुआ शुरू

    मुख्य रेलवे लाइन पर पुल निर्माण कार्य करते समय गर्डर का काम किया जाएगा. रेलवे विभाग ने बार-बार डिजाइन में बदलाव करने से काम रूका था. अब यह काम शुरू है. काम के लिए 29 करोड़ रुपए का निधि प्राप्त हुआ, जिसमें से 4 से 5 करोड़ रुपए रेलवे विभाग को दिए गए हैं. शेष पुल का काम भी शुरू है. आवश्यकता पड़ने पर निधि की मांग की जाएगी. कुछ माह में ही पुल का काम पूर्ण होगा.

    -महेश माथुरकर, उपअभियंता-पीडब्ल्यूडी.