पार्किंग से दुपहिया की बैटरी चोरी, सेवाग्राम अस्पताल में स्टैंड कर्मियों दुर्व्यवहार

    वर्धा. सेवाग्राम स्थित कस्तूरबा अस्पताल के पार्किंग स्टैंड पर रखी हुई दुपहिया वाहन की बैटरी चोरी हो गई. दुपहिया का मालिक वाहन जब लेने पहुंचा तब बैटरी चोरी होने की बात उसके ध्यान में आयी़ पार्किंग में वाहन की सुरक्षा की जिम्मेदारी स्टैंड कर्मियों की होने से उसने बैटरी के मुआवजे की मांग की़ किंतु, उसे मुआवजा तो दिया नहीं गया, उल्टे दुपहिया मालिक के साथ गलत बर्ताव किया गया. विरुल निवासी मुनेश्वर भेंडे यह अस्पताल में भरती अपने परिजन से मिलने गए थे.

    इस दौरान दुपहिया क्रमांक एमएच 32 एजी 2336 यह दुपहिया वाहन उन्होंने स्टैंड पर लगाया, जिसकी रसीद भी उन्होंने ली थी़  वापस जाते समय दुपहिया लेने मुनेश्वर पार्किंग स्टैंड पर गया तब वाहन से बैटरी चोरी होने की बात उनके ध्यान में आयी. कर्मचारी ने भी बैटरी चोरी होने की बात कबूल की़  किंतु, पार्किंग स्टैंड का  मालिक मुआवजा देने के लिए तैयार नहीं होने की बात कहते हुए टालमटोल जवाब देने लगे.

    वाहनों की सुरक्षा की जा रही अनदेखी

    पार्किंग में वाहन लगाने के बाद सुरक्षा की पूरी जिम्मेदारी पार्किंग स्टैंड का ठेका लेने वाले की है़  किंतु, पार्किंग स्टैंड पर नियुक्त कर्मचारी ध्यान नहीं रखते, जिससे दुपहिया रखने तथा निकालने के समय परेशानी होती है़  कई बार दुपहिया नीचे गिरी रहती है, जिसमें दुपहिया मालिक का नुकसान भी होता है़  स्टैंड से वाहन के कांच, बैटरी चोरी की घटनाओं में वृद्धि हुई है.