Wardha Murder, hivra

  • हिवरा(बां.)में किसान हत्याकांड

वर्धा. सेलू तहसील के हिवरा (बां.) में किसान हत्याकांड प्रकरण की गुत्थी सिंदी (रेलवे) पुलिस ने सुलझा ली. छोटे भाई ने ही बड़े भाई की हत्या करने की बात स्पष्ट हुई. पुलिस ने गुरुवार की रात्रि आरोपी को गांव से हिरासत में लिया. शुक्रवार को न्यायालय में पेश करने पर आरोपी को 29 दिसंबर तक पुलिस कस्टडी सुनाई गई है.

बता दें कि सेलडोह से तीन किमी दूरी पर हिवरा(बां.) में पुरुषोत्तम मारोतराव उराडे (40) की कुल्हाड़ी से वार कर हत्या कर दी थी. प्रकरण में छोटे भाई रविंद्र मारोतराव उराडे (36) की शिकायत पर सिंदी पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया था.

पारिवारिक विवाद के चलते दस वर्ष पूर्व मृतक की पत्नी अपने दो बच्चों को लेकर पवनार मायके चली गई थी. तब से पुरुषोत्तम अकेले ही रहता था. पड़ोस में ही उसका भाई रविंद्र उराडे का मकान है. 19 दिसंबर की देरशाम पुरुषोत्तम मृतावस्था में दिखाई दिया. उसके गर्दन पर कुल्हाड़ी से गंभीर वार किये गए थे. प्रकरण में पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच पड़ताल शुरू कर दी. ग्रामीणों के बयान दर्ज किये गए, परंतु कोई सुराग पुलिस के हाथ नहीं लग रहे थे.

अनैतिक संदेह को लेकर की हत्या

पांच दिनों तक चली जांच पड़ताल के बाद पुलिस ने संदेह के आधार पर रविंद्र उराडे को हिरासत में लिया. पूछताछ में उसने अपना गुनाह कबूला.  थानेदार प्रशांत काले के मार्गदर्शन में आरोपी को न्यायालय में पेश किया गया, जहां उसे 29 दिसंबर तक पुलिस कस्टडी सुनाई गई है. रविंद्र ने वारदात को अंजाम देन के बाद खुद ही थाने में शिकायत दर्ज करायी थी. गत पांच दिनों से रविंद्र पुलिस को गुमराह कर रहा था़  दोनों भाइयों में पारिवारीक विवाद चल रहा था़ अनैतिक संबंधों के संदेह को लेकर रविंद्र ने पुरुषोत्तम को मौत के घाट उतारने की जानकारी है. प्रकरण में आगे की जांच सिंदी रेलवे पुलिस कर रही है.