Representational Pic
Representational Pic

वाशिम. कोरोना संकट के समय सरकारी शाला, स्थानीक स्वराज संस्था की शालाएं व अनुदानित शालाओं में कक्षा 1 से 8 तक के सभी माध्यमों के लगभग 1 लाख विद्यार्थियों को जिले में 4.50 लाख पाठ्यपुस्तकों का नि:शुल्क वितरण किया गया. प्रतिबंधित क्षेत्र में शीघ्र ही पुस्तकें वितरित की जाएगी. कोई भी छात्र पाठ्य पुस्तक से वंचित न रहे इसके लिए समग्र शिक्षा अभियान से विद्यार्थियों को पुस्तकें वितरित की जा रही है.

जिप के प्राथमिक शिक्षा विभाग द्वारा 7,03,112 पाठ्यपुस्तकों की मांग की गई थी जिसमें कारंजा तहसील के 19,444 विद्यार्थियों को 1,09,691, मालेगांव तहसील में 20,599 विद्यार्थियों को 1,15,875 पाठ्यपुस्तकें, मंगरुलपीर तहसील में 17,346 विद्यार्थियों को 1,00,490 पाठ्य पुस्तके, मानोरा तहसील में 16,533 विद्यार्थियों को 92,309, रिसोड़ तहसील के 26,103 विद्यार्थियों को 1,17,533, वाशिम तहसील के 29,017 विद्यार्थियों को 1,67,214 पाठ्यपुस्तकें वितरित की गयी.

इस बीच जिले को 5,91,387 पाठ्यपुस्तकें प्राप्त हुई है़  27 जून तक जिले के 80 प्रश विद्यार्थियों को पुस्तकें वितरित की गयी है. सुरक्षित स्थानों पर शाला में बुलाकर लगभग 3,000  विद्यार्थियों को पाठ्यपुस्तकों का वितरण किया गया है.