Construction workers
File Photo

    • प्रशिक्षण का लाभ लेने का आहवान

    वाशिम. महाराष्ट्र कामगार कल्याण मंडल की ओर से युनिसेफ के सहयोग से कामगार व कामगार परिवार वालो के लिए महाकल्याण कौशल विकास कार्यक्रम चलाया जा रहा है. वर्ष भर में राज्य के 40,000 कामगार व कामगार परिवारों को इस कार्यकम के तहत नि:शुल्क कौशल्य विकास प्रशिक्षण देने का लक्ष्य रखा गया है़.

    कामगार मंत्री हसन मुश्रीफ, कामगार राज्यमंत्री बच्चू कडू, कामगार विभाग के प्रधान सचिव विनिता सिंघल के मार्गदर्शन में इस कार्यक्रम की घोषना एक जुलाई को मंडल के वर्धापन दिन पर की गई थी. महाराष्ट्र की मुख्य क्षेत्रीय अधिकारी राजेश्वरी चंद्रशेखर का इस कार्यक्रम के लिए विशेष सहयोग मिल रहा है. ऐसी जानकारी मंडल के कल्याण आयुक्त रविराज इलवे ने दी है़  

    महाराष्ट्र कामगार कल्याण मंडल व उसी प्रकार से महाराष्ट्र इमारत व अन्य निर्माण कार्य कामगार व अन्य निर्माण कार्य कामगार व उनके परिवारों को यह प्रशिक्षण का लाभ मिलेगा़  इस के लिए मंडल के पब्लिक डॉट एमएलडब्ल्युबी डॉट इन इस संकेत स्थल पर उपलब्ध विहित नमूना के गुगल फॉर्म भरना आवश्यक है.

    प्रशिक्षणार्थी के लिए शैक्षणिक पात्रता आठवीं उत्तीर्ण से स्नातक है. यह प्रशिक्षण वर्ग आनलाइन व आफलाइन होकर अभ्यासक्रम का अवधि 15 दिनों से 1 वर्ष रहेगा़  एसी रेफ्रीजरेशन, मेकेनिक, नर्सिंग, साइबर सिक्युरिटी, असिस्टंट ड्यूटी, ऑटोमोबाइल बिक्री, बैकिंग और इन्शुरन्स कस्टमर, रिलेशन एंड सेल्स डेवलपर, फ्रंट ऑफिस असिस्टंट, आईटीआई कोर्सेस, हॉस्पिटलिटी असिस्टंट, इलेक्ट्रिशियन, फैशन डिजायनिंग एंड ड्रेस मेकिंग, जनरल ड्यूटी असिस्टंट आदि अभ्यासक्रमों का इस में समावेश है़  

    प्रवेश के लिए महामंडल ने कामगारों को दिए लेबर आईडेटिंटी क्रमांक अथवा महाराष्ट्र इमारत व अन्य निर्माण कार्य कामगार कल्याणकारी मंडल का पंजीयण क्रमांक, आधार कार्ड, पैन कार्ड, राशन कार्ड, बिजली बिल, गुण पत्रक, शैक्षणिक प्रमाण पत्र और समीप के कामगार कल्याण केंद्र की वार्षिक चंदा भरने की रसीद आदि दस्तावेज आवश्यक रहेंगे़.

    इस उपक्रम के अंतर्गत कोटक एज्युकेशन फाऊंडेशन, टाटा कैपिटल टेक, महिंद्रा फाउंडेशन, फादर एग्रेल जॉब इस नामांकित संस्था का समावेश होकर उनके माध्यम से प्रशिक्षण दिया जानेवाला है. प्रायोगिक तत्त्वों पर पुणे व ठाणे में प्रशिक्षण शुरू होकर यह कार्यक्रम अब राज्यस्तरों पर चलाया जाने की जानकारी कामगार कल्याण केंद्र के केंद्र संचालक देवानंद दाभाडे ने दी है़  सभी कामगार व उनके परिवारो वालो ने इस प्रशिक्षण का लाभ लेने का आहवान किया गया है़.