File Photo
File Photo

    आसेगांव. निराश्रित लाभार्थियों को सरकार द्वारा अर्थ सहाय योजना के तहत मानधन वितरित कर आधार देने का कार्य सरकार द्वारा किया जाता है. किंतु बीते चार माह में केवल एक ही माह का मानधन वितरण बैकों के माध्यम से किया गया है. जिस वजह से अब पूरे तीन माह के मानधन का वितरण बकाया है. आगामी कुछ दिनों के भीतर दीपावली का पर्व है. ऐसे में मानधन का वितरण बहुत आवश्यक है. क्योंकि निराश्रित लाभार्थियों को दीपावली वाले खुशियों के पर्व से पूर्व मानधन वितरण होना आवश्यक  है. 

    राज्य सरकार द्वारा दिव्यांग, विधवा महिला, बेसहारा महिला व पुरुषों समेत वयो वृद्धों को अर्थ सहाय योजना के तहत प्रति माह 1,000 रू. का मानधन जीवनयापन के लिए दिया जाता है. इस योजना के तहत हजारों लाभार्थियों को इस का लाभ भी मिलने लगा है. जिससे लाभार्थियों में खुशी दिखाई देती है.

    किंतु अनेक बार लाभार्थियों के मानधन वितरण में विलंबता होने के कारण लाभार्थियों को परेशानी सहन करनी पड़ती है. इस तरह की ही स्थिति बीते चार माह से आसेगांव परिसर में निर्माण होने से हर लाभार्थी मानधन मिलने की प्रतीक्षा कर रहा है. लेकिन चार माह में से एक माह का ही वितरण होने से थोड़ी राहत लाभार्थियों को मिली थी. परंतु अब दीपावली का पर्व है. ऐसे में हर समुदाय इस पर्व को खुशियों के पर्व के रूप में मनाता है. इस नाजुक वक्त के दौरान चार माह का बकाया रहने वाला मानधन वितरण होना आवश्यक है. बीते अनेक माह से रुके हुए मानधन के कारण निराश्रित लाभार्थियों में नाराजगी दिखाई देने लगी है.

    क्योंकि अब से कुछ ही दिनों के भीतर देश का सबसे बड़ा पर्व दीपावली आने वाला है. इस पर्व के दौरान हर कोई खुशियों को समेटने की होड़ में रहता है. ऐसे में इन लाभार्थियों को मानधन की राशि ना मिलना, सरकार द्वारा इन बेआधार लोगों पर अन्याय करने जैसा साबित हो सकता है. लाभार्थियों के बैंक एकांउट में तत्काल मानधन राशि जमा कर बैंकों के माध्यम से वितरण किए जाने की मांग जोर पकड़ने लगी है. 

    दीपावली पर्व व जीवनयापन के लिए मानधन मिलना आवश्यक

    आसेगांव समेत क्षेत्र के ग्रामों में निराधार लाभार्थियों की संख्या हजार के पार है. किंतु इन्हें बीते तीन माह से मानधन राशि का वितरण ना किए जाने से इन में अधिकतर लोगों को हर तरह की आर्थिक स्थिति से गुजर कर जीवन यापन करने की नौबत आ रही है. ऐसे में दीपावली का पर्व कुछ ही दिनों के भीतर आने वाला है. जिस वजह से लाभार्थियों को मानधन राशि का वितरण होना बहुत आवश्यक बन गया है. सरकार इस गंभीर मामले को ध्यान में रखकर कितने दिनों के भीतर राशि वितरण का प्रबंध करता है. इस पर सभी का ध्यान लगा हुआ है.