सांसद भावना गवली की मुश्किलें बढ़ी, ईडी से वाशिम के निर्माण कार्य विभाग की जांच

    वाशिम. सांसद भावना गवली पर ईडी की कार्रवाई होने के बाद उनके निकटवर्तीय रहनेवाले सईद खान को जांच हेतु कब्जे में लेकर जांच दौरान जिले में शुरू रहनेवाले सड़कों के कामों में अनियमितता होकर इस में गड़बड़ी होने की जानकारी सामने आयी है़  इस के बाद 12 अक्टूबर को ईडी के तीन से चार पथक जिले में आकर उन्होंने इस संदर्भ में सार्वजनिक निर्माण कार्य विभाग की जांच की है़ 

    उसी प्रकार से रिसोड तहसील के देगांव स्थित बीएएमएस कॉलेज, धर्मदाय आयुक्त कार्यालय, मंगरुलपीर में जांच करने की जानकारी सूत्रों ने बतायी है़  शहर के सड़कों के कामों के लिए निधि प्राप्त हुआ था़  यह कामे करने के लिए कुल 5 टेंडर मिले थे. इस में से टेंडर गैरकानूनी रहने से अपात्र किए गए थे़  बाकी टेंडर अजयदीप इन्फ्राकान प्रा. लि. औरंगाबाद कंपनी के थे़  इस कंपनी ने 13 प्रश अधिक दरों से काम लिया.

    इस संदर्भ में मुंबई उच्च न्यायालय के नागपुर खंडपीठ में याचिका दाखिल थी़  यह काम अजयदीप इन्फ्राकान प्रा. लि. औरंगाबाद इस कंपनी से सईद खान के भूमि कन्स्ट्रक्शन कंपनी को दिया जाने का सामने आया़  इस पर से वाशिम के सार्वजनिक निर्माण कार्य विभाग के कार्यालय के जांच के लिए ईडी का पथक वाशिम में आकर उन्होंने निर्माण कार्यों की जांच की है़.

    उसी प्रकार से रिसोड तहसील के देगांव स्थित बीएएमएस कॉलेज, धर्मदाय आयुक्त कार्यालय, मंगरुलपीर मे जांच करने की जानकारी बतायी जा रही है़  इस जांच में कौनसी आक्षेपार्ह बात सामने आयी है. इस की जानकारी नहीं मिल सकी़.