Samruddhi Express work, Wardha (2)

    • समृध्दि महामार्ग का निरीक्षण 
    • 2 मई को नागपुर से शेलू बाजार तक 
    • पहला चरण शुरू होगा 
    • दिसंबर 2023 के पूर्व महामार्ग परिवहन के लिए होगा खुला 

    वाशिम. राज्य की राजधानी और उप राजधानी मुंबई-नागपुर के दौरान हिंदूह्दय सम्राट दिवंगत बालासाहब ठाकरे समृध्दि महामार्ग का नागपुर-शेलू बाजार के दौरान 210 कि.मी. दूरी का पहला चरण आगामी 2 मई को परिवहन के लिए खुला होने की जानकारी सार्वजनिक निर्माणकार्य मंत्री एकनाथ शिंदे ने दी है़  22 अप्रैल को शिंदे का ठाणे से हेलीकॉप्टर से हवाई मार्ग से ने समृध्दि महामार्ग पर के  शेलू बाजार समीप जनुना खु. शिवार में से जानेवाले नागपुर-मुंबई समृध्दि महामार्ग पर निर्माण किए गए हेलीपॅड पर आगमन हुआ़.

    इस अवसर पर वे बोल रहे थे़  एकनाथ शिंदे का आगमन होते ही विधायक नितिन देशमुख, महाराष्ट्र राज्य सड़क विकास महामंडल के व्यवस्थापकीय संचालक राधेश्याम मोपलवार ने शिंदे का पुष्पगुच्छ देकर स्वागत किया़  जिले के शेलू बाजार से नागपुर तक समृध्दि महामार्ग के कार्य का निरीक्षण करने के लिए शिंदे ये नागपुर की ओर रवाना हुए़  इस के पूर्व शिंदे ने उपस्थित प्रसारमाध्यम प्रतिनिधियों से संवाद साधा.

    सुरक्षित यात्रा के लिए नियोजन किया 

    शिंदे ने कहा कि, आगामी 2 मई को नागपुर-शेलू बाजार तक 210 कि.मी के इस महामार्ग का पहला चरण शुरू हो रहा है़  इस की पूर्व तैयारी करके हुए कार्य का निरीक्षण करने के लिए वे यहां पर आए थे़  2 मई को नागपुर से जिन स्थानों पर से महामार्ग का प्रारंभ होता है, उस स्थानों पर मुख्यमंत्री उध्दव ठाकरे और मंत्रीमंडल के कुछ सहयोगियों की उपस्थिति में इस महामार्ग का उदघाटन होनेवाला है़ पहले चरण में यात्रा करनेवाले यात्रियो को सुरक्षित यात्रा किस प्रकार से की जाएगी इसका नियोजन महाराष्ट्र राज्य सड़क विकास महामंडल ने किया है़ 

    युध्दस्तर पर महामार्ग का बाकी कार्य शुरू  

    शिर्डी तक यह महामार्ग भी आगामी दो से तीन महीने में पूर्ण होगा. भिवंडी से मुंबई की दिशा में यह मार्ग नागपुर की ओर जाने के लिए शुरू होता है़  वहां से आज हम इस महामार्ग की शेलू बाजार तक हवाई निरीक्षण किया है़  युध्दस्तरो पर इस महामार्ग का बाकी कार्य शुरू है़  जो कुछ कठिनाईया शिर्डी तक इस महामार्ग में होंगी वह भी आनेवाले दो, तीन महीने में हल करके इस का लोकार्पण किया जाएगा़  संपूर्ण नागपुर-मुंबई के दौरान 701 किलोमीटर का यह समृध्दि महामार्ग दिसंबर 2023 तक अथवा उसके पूर्व पूर्ण करके नागपुर-मुंबई के दौरान परिवहन शुरू होगा़  आज नागपुर-मुंबई यात्रा इस मार्ग से करीब 16 से 18 घंटे का समय लगता है़  लेकिन यह महामार्ग पूर्ण क्षमता से शुरू होने पर यह दूरिया केवल 6 से 7 घंटे में ही पूरा किया जा सकेगा़ 

    राज्य के लिए महामार्ग भाग्यरेषा  

    समृध्दि महामार्ग यह केवल महामार्ग ही नहीं तो गेम चेंजर है़  राज्य के लिए महामार्ग भाग्यरेषा है. विदर्भ, मराठवाडा, उत्तर महाराष्ट्र व कोकण के भागों का विकास करनेवाला और इस भागों को समृध्द करने वाला यह महामार्ग है़  किसानों के जीवन में इस महामार्ग से आमुलाग्र बदल होने के लिए मदद होनेवाली है़  इस महामार्ग पर के किसानों को पगडंडी रास्ते की समस्या का समाधान भी किया जाएगा़ किसानों के लिए इस महामार्ग में ध्यान रखा गया है़  इस महामार्ग पर 230 अंडरपास तैयार किए है़ वन्यप्राणियों को भी इस महामार्ग पर के लिए ध्यान रखा गया है़  उनके भ्रमण मार्ग में बाधाएं नहीं आना इसलिए 26 अंडरपास और 8 ओवरपास इस महामार्ग पर तैयार किए गए है़