टीईटी परीक्षा के लिए 1 हजार 237 छात्रों ने दिखाई पीठ

    •  शहर में 37 केंद्र पर हुई परीक्षा  

    यवतमाल.  सरकार नियोजित किए समय के अनुसार रविवार 21  नंवबर को 37 केंद्र पर  शिक्षक पात्रता परीक्षा  का आयोजन किया गया था. इस परिक्षा में 10 हजार 34 छात्रों से  1 हजार 237 छाद्ध अनुपस्थित  रहे  ओर  8 हजार 797  छात्रों ने टीईटी की परीक्षा दी. 

    शिक्षक पात्रता   परीक्षा के लिए पहले पर्चे के लिए 21 परीक्षा केंद्र थे. पहले पर्चे में 5 हजार 646 छात्रों में से 4 हजार 929 छात्र ने परीक्षा दी ओर 726 छात्र अनूपस्थित थे. साथ ही पर्चे के लिए 16 केद्र थे. इन केंद्र पर कुल 4 हजार 388 छात्रों परीक्षा देनेवाले थे. लेकिन उसमें से 3 हजार 877 छात्र उपस्थित थे ओर 511  छात्रों परीक्ष के लिए अनुउपस्थती दर्शायी. उसी दौरान दोनों पर्चे के लिए पात्र हूए  10 हजार 34 छात्रों में से 8 हजार 797 छात्रों ने  परीक्षा केंद्र पर परीक्षा दी तो 1 हजार 237  छात्रों की अनुपस्थित रही.  

    यातायात पडा परीक्षा पर  असर 

     जिले में आययात के लिए  केवल सार्वजिक महाराष्ट्र परिवहन मंडल की बस सेवा है. साथ ही जिला का क्षेत्र बडा है ओर जिले मे 16  तहसील है. जिला मुख्यालय व अखरी तहसील का अंतर लगभग 100 कि. मीटर से अधिक है. ऐसे में सरकारी कार्यालय, अस्पताल,   स्कूल समेत अन्य कामकाज के के लिए यवतमाल में पहुचने के लिए छात्र एसटी का प्रयोग करते है. लेकिन  पीछले 23 दिनों से एसटी कर्मचारियो का अनशन शुरू होने कारन छात्रों को परीक्षा केंद्र पर पहुचने के लिए बडी परेशानियों का सामना करना पडा.