Ganesh Dharmale, Yavatmal

  • 20 लगातार शतक और 3 दोहरे शतक
  • सुरमई ग्रुप द्वारा 11 हजार रुपए देकर सत्कार

पुसद. टी 20, वनडे, टेस्ट में नहीं बल्कि भारत के लौह पुरुष सरदार वल्लभभाई पटेल की याद में राष्ट्रीय एकता दिवस चुनौती साइकिल प्रतियोगिता का आयोजन किया गया था. स्पर्धा में महाराष्ट्र, पंजाब, हरीयाणा, तमीलनाडु, कर्नाटक, राजस्थान, दिल्ली पूरे देश भरे से 285 स्पर्धकों ने हिस्सा लिया था. मातोश्री सुभद्रबाई जिल्हेवार विद्यालय के शारीरिक शिक्षा ग्रामगीताचार्य गणेश धर्माले ने कुल 23 शतक उसमें भी प्रति दिन 20 शतक और 3 द्विशतक साइकिंग करएक नया कीर्तिमान स्थापित किया है.

उनके काम पर ध्यान देते हुए, सुरमई समूह रविवार 28 दिसंबर को चिंतामणि मंदिर के परिसर में उनका शाल, श्रीफल, सम्मानचिन्ह व 11 हजार रुपए नकद देकर सम्मानित किया गया. उनकी सफलता पर सभी सराहना कर रहें है. स्पर्धा में 151, 125, 107, 112, 111, 132, 111, 101, 112, 125, 203, 105, 126, 121, 151, 124, 128, 175, 113, 178, 132, 230, 255 ऐसे प्रतिदिन साइकिलिंग की उन्हें अनंत जाधव, शेख मसूद, संतोष हराल,इशांत चव्हाण, बालकृष्ण मंदाडे के मार्गदर्शन का लाभ मिला तो मधुकर मोरझडे, प्रवीण शिंदे, शिव आरु, केंद्रप्रमुख अमित बोजेवार, प्रवीण कीर्तनकार, रमेश हिंगमीरे, सागर हरीमकर, विवेक बैस्कार,रोहन पारध, सुनील भालेराव, अजय अनासने,अजय कोटलवार ने उन्हें सहयोग दिया. सफलता का श्रेय माता, पत्नी, बच्चों को देता है. 

सत्कार समारोह में अविनाश खापरे, संतोष काले, जगदीश जाधव, स्वप्निल येरावार, रवि मंदाडे, डा. अरुण राठोड़, रामटेके, नंदकुमार बोरकूट, विजय चंद्रवंशी, मनीष काले, गोपाल तलपल्लेवार, श्यामराव शेंडगे, बंटी विश्वकर्मा, नितिन शिंदे, संदीप कहार, अतुल नेरकर, विनोद चिंतावार, सागर हरिमकर, प्रशांत हिंगमीरे, बालकृष्ण मंदाडे, विवेक बैस्कार, शिव आरू, संतोष हराल और सुरमई समूह के सभी पदाधिकारी उपस्थित थे.