व्यापारियों ने उठाई चिंता: कोरोना में कारोबार थम भी जाए तो टैक्स हमेशा के लिए चलेगा

    • व्यापारियों ने उठाई चिंता : घाटंजी शहर में कर मार्गदर्शन कार्यशाला का जवाब

    घाटंजी. कोरोना और लॉकडाउन के दौरान व्यापार पूरी तरह ठप हो गया. अभी भी यह स्पष्ट नहीं है कि लॉकडाउन कब होगा और दुकानों को बंद करना होगा. हालांकि, व्यापारियों को जीएसटी, आयकर से कोई छूट नहीं दी गई, व्यापारियों ने कहा. करप्रणाली में होनेवाले नये-नये बदलाव चुनौती भरे साबित हों रहें है. इसलिए यहां रसिकश्रय की ओर से कर मार्गदर्शन कार्यशाला का आयोजन किया गया. इस कार्यशाला में व्यापारियों ने अपनी अपेक्षाएं एवं समस्याएं प्रस्तुत कीं. तो विशेषज्ञों ने एक समाधान सुझाया.

    प्रमुख मार्गदर्शक एड. संजय लुक्का, सीए अली हुसैन उपस्थित थे. कार्यशाला में कर मुद्दों और समाधानों पर विस्तृत चर्चा हुई. व्यापारियों ने विभिन्न प्रश्नों को प्रस्तुत कर उसका समाधान किया.

    कार्यक्रम की अध्यक्षता घाटंजी चैंबर ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष संजय गढिया ने की. कार्यक्रम के मुख्य अतिथि चैंबर ऑफ कॉमर्स के उपाध्यक्ष संजय पालतेवार, सचिव संदीप मुनोत और कार्यक्रम के मुख्य आयोजक महेश पवार थे. प्रतिष्ठित व्यवसायी मनोज अग्रवाल को सीए परीक्षा उत्तीर्ण करने पर गणमान्य व्यक्तियों द्वारा सम्मानित किया गया.

    दयाशंकर पांचोली, सलीम नगरिया, संजय अग्रवाल, शंकरराव चुनारकर, सतीश मलकापुरे, राम अग्रवाल, प्रेमानंद हांडे, भरत पोतराजे,खुशाल अटारा,राहुल गढिया, हितेश गढिया, प्रशांत नीत, अमित अग्रवाल, वसीम नगरिया, अश्विन गढिया, संजय सूचक, संजय खडसे, विशाल अटारा, भावेश गंडेचा, विजय खडसे, गजानन पलिकुंडवार, बुक्कावार सहित अन्य व्यापारी बड़ी संख्या में उपस्थित थे. कार्यक्रम की शुरुआत महेश पवार ने की. धीरज भोयर द्वारा होस्ट किया गया और संदीप मुनोट द्वारा धन्यवाद दिया गया.

    इस कार्यशाला में आर्णी से कई व्यापारी भी आए थे. लॉकडाउन के कारण व्यापारियों को हो रही परेशानी से व्यापारियों को कार्यशाला में राहत मिली.