लोनी में 6 एकड़ सोयाबीन के बीज को कीड़ों ने किया नष्ट, कृषि विभाग ने किया निरीक्षण

    आर्णी. इस साल के शूरू से ही खरीफ सीजन में वानु कीड़ों का प्रकोप बढ गया था. इसमें ही आर्णी तहसील के लोनी के किसान सुरेश काले की डेढ़ एकड़ सोयाबीन की फसल और नरेंद्र लाड की ढाई एकड़ सोयाबीन फसल धवस्त हो गई. इसलिए इन किसानों ने फसल बीमा कंपनी और कृषि विभाग में शिकायत दर्ज कराई है.

    क्षतिग्रस्त सोयाबीन के खेत का निरीक्षण तहसील के कृषि अधिकारी अरविंद राठोड कुषीसहायक विजय गडपायले और आत्मा के भोयर साहेब ने किया. लोनी शिवारा में कीटों के प्रकोप से कपास और सोयाबीन की फसल की वृद्धि पूरी तरह ठप हो गई है. अब सुरेश काले और नरेंद्र लाड के सोयाबीन के खेतों में वानु कीड़ों का प्रकोप अधिक था.

    सोयाबीन के पुष्पक्रम के दौरान किटो का प्रकोप रूका नहीं है. इसलिए उन्हें मुआवजा मिलना चाहिए इसके तहत फसल बीमा कंपनी से ऑनलाइन शिकायत दर्ज की है, ऐसा किसानों ने बताया. सोयाबीन फसल धवस्त करने से अब उत्पादन होगा नहीं. इसका कारण यह है कि फसल के विकास के दौरान, वाणु कीटों ने पत्तियां खा ली है. इसलिए सुरेश काले और नरेंद्र लाड ने मुआवजे की मांग की है.