Yavatmal News

    यवतमाल. शहरवासियों को इन दिनों जीवन प्राधिकरण की ओर से नलों  के जरिए जल आपूर्ति कराई जा रही है. लेकिन नलों से निकल रहे पानी में इल्लियां पाई जा रही है. जिसके चलते शहरवासियों स्वास्थ्य खतरे में पड़ गया है. जीवन प्राधिकरण विभाग से साफ जलापूर्ति कराने की मांग जोर पकड़ती जा रही है.

    शहर के  बालाजी चौक के गणपती मंदिर व जाजुवाडा परिसर मे बीते 15 दिनों से जीवन प्राधिकरण विभाग की ओर से की जा रही जलापूर्ति के पानी में इल्लियां पाई जा रही हैं. दूषित जलापूर्ति के चलते परिसर में रहने वाले लोगों द्वारा अपने बच्चों को  साफ पीने का पानी उपलब्ध कराया जा रहा है. परिसर में रहने वाले कुछ लोग बाहर से पानी की कैन खरीद कर अपनी तथा परिवार की प्यास बुझा रहे हैं. पिछले 15 दिनों से यही आलम रहने के बावजूद भी जीवन प्राधिकरण की ओर से शुद्ध जल आपूर्ति को लेकर कोई कदम नहीं उठाया जा रहा है.

    जिससे साफ पता चल रहा है कि जीवन प्राधिकरण विभाग को जनता के स्वास्थ्य को लेकर कोई भी दिलचस्पी नजर नहीं आ रही है . जीवन प्राधिकरण विभाग का रवैया ऐसा ही रहा तो आने वाले दिनों में जल जनित बीमारियों का सामना लोगों को करना पड़ सकता है. इसलिए जीवन प्राधिकरण विभाग ने शुद्ध जल आपूर्ति को लेकर योग्य कदम उठाना चाहिए. अन्यथा स्थानीय जनता अपनी स्टाइल में जीवन प्राधिकरण विभाग को सबक सिखा सकती है.