ग्रामीण अस्पताल में एक्स-रे मशीन नहीं मिल रहा मुहूर्त, अस्पताल में 29 पदों में से 15 पद खाली

    मारेगाव: मारेगाव ग्रामीण अस्पताल को पदों का ग्रहण लगे कुछ वर्षों बीत चुके परन्तु ग्रहण छूटने का नाम नही ले रहा है अस्पताल में कुल 29 पद होकर जिसमे 15 पदरिक्त होने से इसका सीधा असर मरीजोके स्वास्थ पर पड़ रहा है जिसके चलते मरीज अस्पताल में  असुविधा होने की बात कह रहे है 

    मारेगाव ग्रामीण अस्पताल में पिछले 20 वर्ष पूर्व एक्सरे मशीन में बिगाड़ आने के चलते वह नादूरस्त रहने से धूल खा रही थी बड़ी मिन्नतों के बाद 2 माह पूर्व मारेगाव ग्रामीण अस्पताल को एक्सरे मशीन नसीब हुई है जो जगह एंव एक्सरे टेक्नीशियन के अभाव में सीलबंद अवस्था मे ही देखी जा रही है एक्सरे मशीन का  मुर्हत किस दिन निकलेगा जिसका मरीज इंतजार कर रहे है 

    अस्पताल के 29 पदोमेसे 15 पदरिक्त है जिसमे वैघकीय अधीक्षक ,दंतचिकित्सक,सहाय्यक अधीक्षक,कनिष्ठ क्लर्क ,अधि परिचारिका,कक्ष सेवक,दन्त सहाय्यक,नेत्र चिकित्सक सहाय्यक, सिपाही,लेबोरटरी तंत्रदन्य,एक्सरे टेक्नीशियन आदि पदरिक्त रहने से अस्पताल में मरीजो को असुविधाओं का सामना करना पड़ रहा है.

    अस्पताल में HIV टेस्ट सप्ताह में एकहिबार की जाती है यह पद भी प्रभारी होने की बात सामने आयी है एड्स जनजागृति पर करोड़ो खर्च किये जा रहे परन्तु पदों को भरा नही जा रहा है   केंद्रीय परिवन मंत्री  नितिन गडकरी के जन्म दिन पर विधायक बोदकुरवार ने ग्रामीण अस्पताल को अम्बुलनस दी है जो आज बिना चालक के शोपीस अवस्था मे खड़े होने की बात सुनने को मिली है 

    मारेगाव ग्रामीण अस्पताल को पिछले कुछ दिंनो में एक्सरे मशीन प्राप्त हुई है परन्तु टेक्नीशियन एंव जगह का अभाव है अस्पताल को लग कर स्वास्थ विभाग की बिल्डिंग खाली पड़ी है अगर स्वास्थ विभाग ग्रामीण अस्पताल को यह बिल्डिंग सौंपता है तो एक्सरे मशीन को रखने के साथ साथ और भी कामो में यह खाली पड़ी बिल्डिंग काम आसक्ति है अस्पताल के रिक्त पदों को लेकर हर जिला मासिक सभा मे विनंती की जाती है

    -प्रिया वानखेड़े, प्रभारी वैद्यकीय अधीक्षक